देश के सबसे लंबे गंगा एक्प्रेसवे का खाका तैयार, इस प्रोजेक्ट से जुड़ेंगे यूपी के 519 गांव

प्रयागराज से मेरठ तक बनने जा रहे देश के सबसे लंबे गंगा एक्सप्रेस-वे का खाका तैयार कर लिया गया है। उत्तर प्रदेश एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीडा) ने इसका खाका तैयार किया कर लिया है। मुख्य सचिव आरके तिवारी की अध्यक्षता में हुई सचिव समिति की बैठक में इसका प्रस्तुतीकरण हुआ। 

इस एक्सप्रेस-वे से प्रदेश के 12 जिले और 519 गांव जुड़ेंगे। इसे 120 किलोमीटर प्रतिघंटा की गति के अनुसार डिजाइन किया गया है। अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि गंगा एक्सप्रेस-वे परियोजना को 12 पैकेज में बांटा है। चार समूह बनेंगे। एक समूह में तीन पैकेज होंगे।

लखनऊ में लोकभवन में सोमवार को आयोजित बैठक में प्रस्तुतीकरण के दौरान यूपीडा के मुख्य कार्यपालक अधिकारी अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि गंगा एक्सप्रेस-वे की प्रस्तावित लंबाई 594 किमी है, जो कि मेरठ के बिजौली गांव के पास से शुरू होकर प्रयागराज के जुडापुर दांदू गांव तक बनेगा। यह कुल 12 जिलों मेरठ, हापुड़, बुलंदशहर, अमरोहा, संभल, बदायूं, शाहजहांपुर, हरदोई, उन्नाव, रायबरेली, प्रतापगढ़ और प्रयागराज से होकर गुजरेगा। 519 गांव भी इसके दायरे में आएंगे। प्रोजेक्ट की कुल लागत 36,230 करोड़ रुपये है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper