दम्पती ने वृद्ध महिला को पीट कर घर से निकाला, दारोगा ने लगाया गले

हाल ही में यूपी पुलिस ने ऐसा काम किया है कि कानपूर निवासी उनकी प्रशंसा करते थक नहीं रहें। दरअसल थाने में एक बुजुर्ग महिला पहुंची। महिला की उम्र 70 वर्ष है। थाने पर पहुँच कर महिला बताया की मै असहाय हूँ, मुझे मेरा बड़ा बेटा बहुत प्रताड़ित करता है। इतना कहकर महिला रोने लगी तभी गोविन्द नगर थाना प्रभारी रोहित तिवारी ने उन्हें गले लगा लिया और शांत कराते हुए कहने लगे की माता जी आप परेशान मत हों। मैं भी आपका बेटा हूं। अब आपको कोई परेशान नहीं करेगा। पुलिस कमिश्नरेट के गोविंद नगर थाने के प्रभारी ने बुजर्ग महिला की शिकायत पर कार्रवाई की।

दारोगा

कानपुर, उन्नाव के बाद अब लखनऊ में भी मिले जीका वायरस के मरीज

थाना प्रभारी ने बताया कि वृद्धा दादा नगर निवासी है और प्राथमिक विद्यालय शिक्षिका है। वृद्धा का आरोप था कि उनके बड़े बेटे ने और बहू ने उनकी दुकान हड़प ली। जिसकी वजह से वह अपने छोटे बेटे के साथ रह रही थीं। अब बड़ा बेटा और बहू उनकी संपत्ति हड़पना चाहते हैं। शुक्रवार रात बेटे-बहू ने मिलकर उन्हें और छोटे बेटे को पीटकर घर से निकाल दिया। वृद्धा की आपबीती सुनकर थाना प्रभारी भावुक हो उठे। उन्होंने पीड़िता की तहरीर पर मारपीट और धमकी की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर बड़े बेटे का शांतिभंग में चालान कराया।

Related Articles

Back to top button
E-Paper