बिहार सरकार का तानाशाही भरा फरमान, धरना प्रदर्शन करने वालों को नहीं मिलेगी सरकारी नौकरी

नयी दिल्ली। कांग्रेस ने बिहार सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन करने वालों को सरकारी नौकरी नहीं देने के ऐलान पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए इसे तानाशाही करार दिया और कहा कि अब युवाओं के अपने अधिकारों के लिए लड़ने के हक को भी छीना जा रहा है।

बिहार सरकार

कांग्रेस ने अपने आधिकारिक पेज पर ट्वीट किया “एक तो भर्तियां नहीं निकलती हैं, अगर निकली तो सालों साल रिजल्ट नहीं आता है, अगर युवा प्रदर्शन करें तो नौकरी नहीं मिलेगी, गजब तानाशाही है।”

इसके साथ ही एक पोस्टर भी पोस्ट किया गया है जिसमें कहा गया है “बिहार सरकार का तानाशाही भरा फरमान। धरना प्रदर्शन करने वालों को नहीं मिलेगी सरकारी नौकरी। सालों साल तक भर्तियों को फंसा कर रखने वाली सरकार चाहती है कि लोग मांग भी ना करें, हद होती है बेशर्मी की।”

गौरतलब है कि बिहार सरकार ने मंगलवार को एक आदेश में कहा है कि किसी भी मांग को लेकर राज्य में प्रदर्शन करने वालों के आचरण प्रमाण पत्र को पुलिस खराब कर सकती है। राज्य सरकार के इस आदेश में अब सरकारी ठेका, सरकारी नौकरी, हथियार का लाइसेंस और पासपोर्ट के लिए पुलिस सत्यापन प्रतिवेदन लेना आवश्यक किया गया है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper