इको टूरिज़्म के लिए मशहूर भारत की ‘पैराग्लाइडिंग राजधानी’ है हिमाचल प्रदेश का पहाड़ी इलाका

मनाली. हिमाचल प्रदेश का ठंडा मरूस्थल क्षेत्र। बर्फ से ढ़के पहाड़, रंग-बिरंगे मठ व छोटे-छोटे गाँव-सब कुछ आँखों में भरने लायक साफ नीला आसमान, इतना करीब की आप हाथ उठा के छूने की गुस्ताखी कर सकें। इको टूरिज़्म के लिए भारत की ‘पैराग्लाइडिंग राजधानी’ हिमाचल प्रदेश का पहाड़ी इलाका मशहूर है

प्रदूषण मुक्त वातावरण जहाँ आपका बस जाने का दिल करने लगे। तिब्बती संस्कृति की लहर जो आपको अपना बना ले। आप बेझिझक अपना कैमरा निकालकर इन खूबसूरत दृश्यों की तस्वीरें खींचने में विलीन हो जाऐंगे। बाइक द्वारा इन टेढ़े-मेढ़े रास्तों से गुज़रते हुए इन नज़ारों का लुत्फ़ उठाना अपने आप में एक अतुल्नीय एहसास है

समुद्र तल से 6725 फीट ऊपर बसा यह स्थान आपको पहाड़ों के साथ करीब से रुबरू करवाएगा। बर्फ से ढके पहाड़ पर्यटकों को यहाँ आने पर मजबूर कर देते हैं। लोग यहाँ बर्फ देखने व बर्फ से जुड़े कुछ रोमांचित खेलों का लुत्फ़ उठाने आते हैं। यहाँ आने का सबसे उचित समय है सर्दियों का मौसम। इस दौरान यहाँ भारी बर्फबारी होती है जिसके आप गवाह बन सकते हैं। गर्मियों का मौसम भी इसकी सुंदरता को फीका नहीं कर पाता। घास के मैदान.भी आपकी आँखों को भा जाऐंगे

Related Articles

Back to top button
E-Paper