इस दिग्‍गज क्रिकेटर ने राहुल तेवतिया की ऐसे की तारीफ, कहा- ‘माता सवार’ हो गई थीं

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने किंग्स एकादश के खिलाफ शेल्डन कॉट्रेल के एक ओवर में पांच छक्के जड़कर राजस्थान रॉयल्स को जीत दिलाने वाले हरफनमौला खिलाड़ी राहुल तेवतिया की अपने ही अंदाज में तारीफ की। सहवाग ने कहा कि राहुल तेवतिया पर बल्लेबाजी के दौरान ‘माता सवार’ हो गई थीं।

राहुल तेवतिया

सहवाग ने ट्वीट किया,”हीरो पैदा नहीं होते बनते हैं। तेवतिया में माता आ गई। क्या ज़ोरदार वापसी की है। यही है क्रिकेट और यही है जीवन, मिनटों में सबकुछ बदल जाता है। बस खुद को हारने मत दो। अगर अपनी कामयाबी पर यकीन किया जाए तो उंगलियां उठाने वाले भी तालियां बजाना शुरू कर देते हैं।”

बता दें कि 224 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही राजस्थान की टीम का संजू सैमसन और कप्तान स्टीव स्मिथ अपनी आतिशी बल्लेबाजी से जरूरी रन रेट बनाये रखा था,लेकिन स्मिथ के आउट होने के बाद बल्लेबाजी करने आये राहुल तेवतिया शुरुआत में बहुत धीमी बल्लेबाजी कर रहे थे। तेवतिया ने अपने पहले 8 रन 19 गेंदों पर बनाए थे।

संजू सैमसन के आउट होने के बाद हर किसी ने राजस्थान से जीत की उम्मीदें लगभग छोड़ दी थी। मैदान पर टीवी का कैमरा तेवतिया और राजस्थान रॉयल्स के डग आउट को बार-बार दिख रहा था, ऐसा लग रहा था कि मानो वो विलेन बन गए हों, लेकिन उन्होंने 18वें ओवर में मैच का पासा पलट दिया।।उन्होंने शेल्डन कॉट्रेल के एक ही ओवर में 5 छक्के लगा कर राजस्थान को हारी बाजी में जीत दिला दी। तेवतिया ने 31 गेंदों पर 53 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली।

Also Read : आईपीएल 2020 की सबसे बड़ी साझेदारी मयंक-राहुल के नाम, लेकिन इनका नहीं टूटा रिकॉर्ड

राजस्थान के खिलाफ पंजाब ने पहले बल्लेबाजी करते हुए मयंक अग्रवाल के तूफानी शतक और केएल राहुल के बेहतरीन अर्धशतक की बदौलत निर्धारित 20 ओवर में 2 विकेट के नुकसान पर 223 रन बनाए। मयंक अग्रवाल ने 106 रन बनाये। वहीं राहुल ने 69 रन बनाए। जवाब में राजस्थान की टीम ने भी पलटवार करते हुए कप्तान स्टीव स्मिथ,राहुल तेवतिया और संजू सैमसन की अर्धशतकों की बदौलत 19.3 ओवरों में 6 विकेट के नुकसान पर 226 रन बनाकर लक्ष्य हासिल कर लिया। स्मिथ ने 50,तेवतिया ने 53 और सैमसन ने 85 रन बनाए। इस मैच में पंजाब की तरफ से 11और राजस्थान की तरफ से 18 छक्के लगे।

Related Articles

Back to top button
E-Paper