बाप-बेटे के हत्यारे तीन सगे भाइयों को आजीवन कारावास

आजीवन कारावास

चित्रकूट। जिले के मानिकपुर थाने के हनुवा गांव के मजरा पथरहाई में बाप-बेटे के हत्यारे तीन सगे भाइयों को एडीजे दीप नारायण तिवारी ने आजीवन कारावास समेत 22-22 हजार रुपये के जुर्माना से दंडित किया है।

मानिकपुर थाने के हनुवा गांव के मजरा पथरहाई के नरेन्द्र पुत्र रामसंवारे ने थाने में दर्ज कराई रिपोर्ट में कहा था कि सात नवम्बर 2014 को उसका भाई सोनू डेरा में खेत में सिंचाई को पाइप बिछाये था। लगभग तीन फुट पाइप जगन्नाथ चौबे के खेत में खिसक जाने पर उसके पुत्र मोहित उर्फ पुष्पेन्द्र, रोहित उर्फ महेन्द्र व सोहित उर्फ अखिलेश चतुर्वेदी लाइसेंसी राइफल व दोनाली बन्दूक लेकर आ गये। जबरन पाइप फाड़ने लगे।

ये भी पढ़ें- सेल्फी ले रही डॉक्टर की पत्नी का बिगड़ा बैलेंस, हलाली डैम के पानी में गिरी

सोनू के विरोध पर मोहित ने लाइसेंसी बन्दूक से गोली मारकर उसकी मौके पर ही हत्या कर दी। सोनू को जमीन पर गिरते देख बचाने गये नरेन्द्र को सोहित ने कट्टे से गोली मारकर घायल कर दिया। पिता रामसंवारे को रोहित ने अपने दरवाजे के सामने लाइसेंसी बन्दूक से गोली मारकर हत्या कर दी थी।

इस घटना की रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ न्यायालय में आरोप पत्र दाखिल किया। मंगलवार को अपर सत्र न्यायाधीश दीपनारायण तिवारी ने अभियोजन व बचाव पक्ष के अधिवक्ताओं की दलीलें सुनने के बाद मोहित, रोहित और सोहित पुत्रगण जगन्नाथ चतुर्वेदी को आजीवन कारावास समेत 22-22 हजार रुपये के जुर्माना से दंडित किया। मृतक रामसंवारे की पत्नी अशोक देवी व मृतक सोनू की पत्नी आभा को दस-दस हजार रुपये तथा घायल नरेन्द्र को पांच हजार रुपये बतौर प्रतिकर देने का आदेश दिया है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper