प्रधानाध्यापिका समेत तीन शिक्षिकाएं निलंबित, स्कूल में की थी आपस में मारपीट

गोंडा। नवाबगंज के कंपोजिट स्कूल सराय हर्रा में तैनात स्कूल की प्रधानाध्यापिका समेत तीन महिला शिक्षिकाओं को निलंबित कर दिया गया है। तीनों महिला शिक्षिकाओं पर आपस में मारपीट करने का आरोप है। उपजिलाधिकारी तरबगंज व खंड शिक्षा अधिकारियों की दो सदस्यीय टीम ने अपनी जांच में तीनों शिक्षिकाओं को दोषी करार दिया था और उनके निलंबन की संस्तुति की थी। इस रिपोर्ट के आधार पर बीएसए ने मंगलवार को तीनों शिक्षिकाओं को निलंबित कर दिया है।

नवाबगंज क्षेत्र के कंपोजिट स्कूल सराय हर्रा में प्रधानाध्यापिका के पद पर कैलाशवती दूबे की तैनाती है। इसी स्कूल में सहायक अध्यापक के रूप मे सर्च वर्मा व ममता पांडेय भी कार्यरत हैं। स्कूल की उपस्थिति पंजिका पर हस्ताक्षर बनाने को लेकर सहायक अध्यापक सरिता वर्मा का प्रधानाध्यापक कैलाशवती दूबे से विवाद हो गया था और दोनो के बीच मारपीट हो गई। इस मामले की जांच उपजिलाधिकारी तरबगंज ने की थी और दोनों शिक्षिकाओं को स्कूल से हटाने की संस्तुति की थी। इसकी कार्रवाई अभी पूरी भी नहीं हुई थी कि सहायक अध्यापक सरिता वर्मा दूसरी शिक्षिका ममता पांडेय से भिड़ गईं और दोनो के बीच का विवाद मारपीट तक पहुंच गया।

इस मामले को जांच खंड शिक्षा अधिकारी की दो सदस्यीय टीम से कराई गई है जिसमें दोनों को दोषी पाया गया। इस रिपोर्ट के आधार पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डा इंद्रजीत प्रजापति ने प्रधानाध्यापिका कैलाशवती दूबे, सहायक अध्यापक सरिता वर्मा व ममता पांडेय को निलंबित कर दिया है।

अलग अलग स्कूलों मे किया संबद्ध

निलंबित की गई प्रधानाध्यापिका कैलाशवती दूबे को ब्लाक के कंपोजिट स्कूल गैलन ग्रंट से अटैच किया गया है। वहीं सहायक अध्यापक सरिता वर्मा को प्राथमिक विद्यालय कटरा भोगचंद व ममता पांडेय को कंपोजिट स्कूल नगवा से संबद्ध किया गया है। बीएसए डा इंद्रजीत प्रजापति ने बताया कि इस पूरे मामले की जांच करनैलगंज के खंड शिक्षा अधिकारी आरपी सिंह व हलधरमऊ के खंड शिक्षा अधिकारी शिवकुमार कि दो सदस्यीय समिति को सौंपी गई है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper