आपस में ही भिड़ गए कांग्रेस पार्टी के दो गुट, जमकर हुई हाथापाई

नगांव (असम)। राज्य के मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस के अंदर आपसी खींचतान अब स्थानीय स्तर के नेताओं के बीच साफ तौर पर दिखने लगा है। इस कड़ी में नगांव जिला के राजीव भवन में कांग्रेस के दो गुटों के बीच जमकर हाथापाई होने का मामला सामने आया है।

कांग्रेस

ज्ञात हो कि सोमवार की रात नगांव स्थित राजीव भवन में एआईसीसी के महासचिव व असम प्रभारी जितेंद्र सिंह पहुंचे थे। इसी दौरान नगांव के सांसद प्रद्युत बरदलै और सामागुड़ी के विधायक रकीबुल हुसैन के समर्थकों के बीच जमकर हाथापाई हुई।

मिली जानकारी के अनुसार रकीबुल हुसैन के समर्थकों द्वारा प्रद्युत बरदलै के समर्थकों को रजीव भवन में प्रवेश करने पर रोक लगाई। जिसके बाद दोनों के समर्थकों के बीच जमकर हंगामा हुआ। इस संबंध में संसद प्रद्युत बरदलै से जब पूछा गया तो उन्होंने इस तरह की घटना से पहले तो इनकार कर दिया। बाद में मीडिया कर्मी द्वारा बताया गया कि दोनों गुटों के बीच में हुई हाथापाई के वीडियो हमारे पास हैं। तो उन्होंने कहा कि अगर ऐसी घटना हुई है तो दुर्भाग्यपूर्ण है, इसकी जांच होनी चाहिए।

ज्ञात हो कि कार्यकर्ताओं के विवाद के पीछे बड़े नेताओं की आपसी मनमुटाव है। पार्टी के अंदर विधानसभा चुनावों के मद्देनजर सभी बड़े नेता अपना-अपना प्रभाव बढ़ाने की कोशिशों में जुटे हुए हैं। चुनावों से पहले कांग्रेस कई धड़ों में बंटी हुई है। जिसमें पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई का भी एक धड़ा है, वहीं प्रदेश अध्यक्ष रिपुन बोरा और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष का भी धड़ा सक्रिय है। ऐसे में अगर पार्टी अपने अंदर ही लड़ती रहेगी तो अपने विपक्ष के साथ लड़ाई कैसे लड़ेगी, इसको लेकर सवाल उठने लगे हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper