बजट 2021-22 : राजस्थान में दो लाख बेरोजगार युवाओं का भत्ता एक हजार रुपए बढ़ा

बजट

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को राज्य विधानसभा में प्रस्तुत बजट 2021-22 भाषण में बेरोजगार युवाओं का बेरोजगारी भत्ता एक हजार रुपए बढ़ाकर प्रदेश के दो लाख युवाओं को साधने का प्रयास किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्व में हमने 650 करोड़ रुपए खर्च कर 1.60 लाख युवाओं को लाभान्वित किया था। मुख्यमंत्री ने बजट के बाद पत्रकारों से बातचीत में यह भी कहा कि प्रदेश के युवाओं को सिर्फ सरकारी नौकरियों के भरोसे नहीं रहना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने बजट भाषण में बेरोजगार युवाओं को तीन माह का प्रशिक्षण दिलवाकर विभिन्न विभागों में 4 घंटे इंटर्नशिप करवाने, राजीव गांधी युवा कोर का गठन का ढाई हजार राजीव गांधी युवा मित्रों का वयन करने, तथा सभी गांवों में 50 हजार महिला-पुरुषों को राजीव गांधी युवा वॉलियंटर बनाने का ऐलान किया। उन्होंने प्रतियोगी परीक्षाओं ग्रामसेवक, पटवारी, मंत्रालयिक कर्मचारी के स्थान पर समान पात्रता परीक्षा लागू करने और दस्तावेजों के प्रमाणीकरण व पुलिस वेरिफिकेशन से छुटकारा दिलाने के लिए वन टाइम वेरिफिकेशन सिस्टम विकसित करने की घोषणा की।

नरेंद्र मोदी स्‍टेडियम में इस खिलाड़ी से दोहरा शतक चाहते हैं अमित शाह, जताई इच्‍छा

मुख्यमंत्री ने सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में भाग लेने वाले परीक्षार्थियों व युवा ब्राण्ड एम्बेसडर्स को प्रदेश में परीक्षा के लिए राजस्थान रोडवेज में नि:शुल्क यात्रा की सुविधा देने की घोषणा की। उन्होंने मेजर ध्यानचन्द स्टेडियम योजना शुरू करने की घोषणा करते हुए चरणबद्ध रूप से राज्य के प्रत्येक ब्लॉक में खेल स्टेडियम निर्मित करने का ऐलान किया। इसके लिए विधायक-सांसद निधि,जनप्रतिनिधि, जन सहयोग, सीएसआर से प्राप्त राशि के बराबर राशि राज्य सरकार द्वारा दी जाएगी।

उन्होंने मोरोली (भरतपुर) में खेल स्टेडियम एवं काछवा (सीकर) में खेल सुविधाएं विकसित करने के साथ अजमेर, भरतपुर, बीकानेर एवं कोटा संभाग मुख्यालयों पर खेलों के लिए मल्टीपरपज इंडोर हॉल तैयार करवाने, राजसमन्द व सिरोही जिला मुख्यालयों पर स्टेडियम एवं प्रतापगढ़ में इंडोर स्टेडियम का निर्माण करवाने का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में व्यापक स्तर पर खेलों का वातावरण तैयार करने के लिए लोकप्रिय खेलों कबड्डी, वॉलीबाल, क्रिकेट (टेनिस बॉल) एवं हॉकी के ग्राम पंचायत, ब्लॉक, जिला व राज्य स्तरीय टूर्नामेंट कराने के लिए 30 करोड़ का प्रावधान किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि एसएमएस स्टेडियम जयपुर व अमृतलाल गहलोत स्टेडियम चैनपुरा स्कूल मण्डोर जोधपुर में आवासीय खेलकूद स्कूल बनाए जाएंगे। जिसमें खिलाडिय़ों को आवास, शिक्षा व खेल प्रशिक्षण की सुविधाएं नि:शुल्क उपलब्ध होंगी। खिलाडिय़ों को उच्च तकनीकी आधारित फिजियोथैरेपी सुविधा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से एसएमएस स्टेडियम जयपुर में उच्च स्तरीय ट्रेनिंग एण्ड रीहेबिटेशन सेंटर की की स्थापना की जाएगी। इसके लिए 40 करोड़ का प्रावधान किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच एवं आईपीएल टूर्नामेंट आयोजित कराने के लिए बरकतुल्लाह खान क्रिकेट स्टेडियम जोधपुर के जीर्णोद्धार एवं सुदृढ़ीकरण संबंधी कार्य 20 करोड़ रुपये की लागत से जोधपुर विकास प्राधिकरण द्वारा करवाए जाएंगे। प्रदेश में डूंगरपुर में आर्चरी एकेडमी तथा जैसलमेर में हैण्डबॉल एकेडमी प्रारंभ की जाएगी। राज्य में युवाओं को अच्छी सुविधा देने के लिए यूथ हॉस्टल उदयपुर, जोधपुर, अजमेर की साज-सज्जा व सुदृढ़ीकरण के कार्य किए जाएंगे। साथ ही यूथ हॉस्टल जयपुर को यूथ एक्सीलेंस सेंटर के रूप में विकसित किया जाएगा। इन पर 5 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

Related Articles

Back to top button
E-Paper