वर्ष 2022 में होेने वाले चार ग्रहण में से दो भारत में दिखेंगे

खगोलीय घटना के तहत वर्ष 2022 में होने वाले चार ग्रहण में से दो ग्रहण भारत में दिखाई देंगे। शासकीय जीवाजी राव वेधशाला के अधीक्षक डॉ राजेंद्र प्रकाश गुप्त ने बताया कि वर्ष 2022 में होने वाले चार ग्रहण में दाे चंद्रग्रहण और दो सूर्यग्रहण होंगे। इसमें से भारत में एक आंशिक सूर्यग्रहण एवं एक पूर्ण चंद्रग्रहण दिखाई देगा।

उन्होंने बताया कि इस वर्ष 30 अप्रैल को होने वाला पहला आंशिक सूर्यग्रहण भारत में नजर नहीं आएगा। यह ग्रहण दक्षिण अमेरिका के दक्षिणी भाग, आंतरिक उत्तरी अमेरिका, दक्षिणी प्रशांत महासागर एवं दक्षिणी अटलांटिका महासागर में दिखाई देगा। इसी प्रकार 16 मई 2022 को होने वाला पूर्ण चंद्रग्रहण भी भारत में नजर नहीं आएगा। यह ग्रहण पश्चिमी यूरोप, मध्य पूर्व अफ्रीका, उत्तरी दक्षिणी अमेरिका, अटार्टिका, अटलांटिका और प्रशांत महासागर में दिखाई देगा।

उन्होंने बताया कि इस वर्ष 25 अक्टूबर को होने वाला आंशिक सूर्यग्रहण भारत में दिखाई देगा। यह ग्रहण 02 बजकर 28 मिनट 03 सेकंड से प्रारंभ होगा। इसका मध्यकाल 04 बजकर 30 मिनट 01 सेकंड एवं सांयकाल 06 बजकर 32 मिनट 01 सेकंड पर समाप्त होगा। यह ग्रहण यूरोप, मध्य पूर्व उत्तरी अफ्रीका, पश्चिम एशिया, उत्तरी अटलांटिका महासागर, उत्तरी हिंद महासागर सहित भारत के अंडमान निकोबार दीप समूह तथा उत्तर पूर्वी भारत को छोड़कर शेष भारत में नजर आएगा।

इस वर्ष का अंतिम पूर्ण चंद्रग्रहण 08 नवंबर को होगा। यह ग्रहण भारत में नजर आएगा और दोपहर 02 बजकर 38 मिनट 05 सेकंड से प्रारंभ होगा। इसका मध्यकाल दोपहर 04 बजकर 29 मिनट एक सेकंड तथा इसके मोक्ष का समय 06 बजकर 19 मिनट 02 सेकंड रहेगा। यह ग्रहण उत्तरी दक्षिण अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, एशिया, उत्तरी प्रशांत महासागर एवं हिंद महासागर में दिखाई देगा।

Related Articles

Back to top button
E-Paper