UP Election 2022 : पार्टी छोड़ने वाले विधायकों पर भड़कीं मायावती, कहा बरसाती मेंढको से नहीं पड़ता फर्क

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा के रुझान अभी से आने शुरू हो गये हैं. सभी पार्टियों के स्टार प्रचारक अपना दम-ख़म लगाकर जोर-शोर से प्रचार में जुट गए हैं. चुनाव का एक पक्ष यह भी है कि कुछ नेता मौका देखकर एक पार्टी से दूसरी पार्टी में छलांग लगा जाते हैं. ऐसा ही एक नज़ारा कल उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में देखने को मिला. जब बसपा के करीब आधा दर्जन विधायक हांथी से उतरकर अखिलेश यादव की साईकिल पर सवार हो लिए. इस दल-बदलू प्रक्रिया पर अब बसपा सुप्रीमो मायावती ने अपना बयान देते हुए कहा है कि आगामी चुनाव में उनकी पार्टी को इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है. बरसाती मेंढक किसी के नहीं होते.

मायावती

किसी के सगे नहीं बरसाती मेंढक

बसपा सुप्रीमो ने आधा दर्जन विधायकों के पार्टी बदलने पर ट्वीट करते हुए कहा है कि अगर कोई पार्टी यह समझती है कि जोड़-तोड़ की गणित से उसका फायदा हो जायेगा तो यह सरासर बेवकूफी है. जनता विश्वास पर चलती है. उसे पता है कि हर चुनाव में इधर से उधर छलांग लगाने वाले किसी के भी सगे नहीं होते. इस राजनैतिक आवाजाही से जनाधार का नुकसान ही होगा. उन्होंने अपनी पार्टी को हिदायत देते हुए कहा कि पार्टी इस बात का खास ख़याल रखे कि ऐसे बरसाती मेंढक हमारी पार्टी में शामिल न होने पायें.

UP News : पाठा गैंग का सफाया करने में कामयाब हुई पुलिस, मार गिराए कई दुर्दांत डकैत

बेनाम पार्टियां फ़िज़ूल में भर रहीं दम

मायावती ने कई नई पार्टियों पर तंज कसते हुए ट्वीट किया कि चुनाव के समय बरसाती मेंढकों की तरह हर बार न जाने कितनी पार्टियां बाहर निकल आती हैं. बाकी समय तो कोई जनता का हाल तक नहीं पूछता है. जनता जनार्दन सब जानती है कि कौन भरोसे के लायक है या नहीं. जनता किसी के भी बरगलाने से गलत पार्टी को वोट नही करने वाली है. सत्ता के मद में चूर सरकार भी जनता की नज़रों से उतर गयी है.

Related Articles

Back to top button
E-Paper