यूपी पांच लाख से ज्यादा स्वास्थ्यकर्मियों को कोरोना टीका लगाने वाला बना पहला राज्य

कोरोना

उत्तर प्रदेश में कोरोना टीकाकरण का कार्य चरणबद्ध तरीके से चलाया जा रहा है। इसी कड़ी में गुरुवार को भी स्वास्थ्यकर्मियों को सभी जनपदों में दोनों प्रकार की वैक्सीन लगाई जा रही है। अपराह्न 3ः00 बजे तक 79,047 स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है। इस तरह प्रदेश में अब तक 5.42 लाख से ज्यादा स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन की पहली डोज दी जा चुकी है और पांच लाख से अधिक स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण करने वाला उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य बन गया है।

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने गुरुवार को बताया कि शुक्रवार को भी स्वास्थ्यकर्मियों के टीकाकरण जारी रहेगा। इसके साथ ही कल से फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन की पहली डोज देना शुरू कर दिया जाएगा। फ्रंट लाइन कर्मियों में फ्रंटलाइन वर्कर्स में पुलिसकर्मी, सेंट्रल पैरामिलिट्री फोर्स के जवान, सेना के जवान, होमगार्ड, सिविल डिफेंस तथा म्यूनिसिपल वर्कर्स, राजस्व विभाग के कर्मचारियों को वैक्सीन दी जाएगी।

शिक्षकों से वसूली करने वाली वजीरगंज बीईओ निलंबित, सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी लिस्ट

उन्होंने बताया कि प्रदेश में सामान्य नागरिकों के कोरोना टीकाकरण की भी प्राथमिकताएं बनी हुई हैं। सबसे पहले 50 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्तियों का टीकाकरण किया जाएगा। यह टीकाकरण स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स का टीकाकरण कार्यक्रम पूरा होने के बाद शुरू किया जाएगा।

अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि इस बीच प्रदेश में बीते चौबीस घंटे में कोरोना संक्रमण के 169 नए मामले सामने आए हैं। इसी दौरान 263 मरीज पूरी तरह से स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किए गए। अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि राज्य में संक्रमण का ग्राफ नीचे जाने पर अब सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 4,629 हो गई है। वर्तमान में कोरोना से रिकवरी दर 97.78 प्रतिशत चल रही है।

राज्य में कुल सक्रिय मामलों में से 1,284 होम आइसोलेशन में हैं। वहीं 403 मरीज निजी चिकित्सालयों में अपना इलाज करा रहे हैं। शेष मरीज राज्य सरकार की व्यवस्था के तहत एल-2 व एल-3 स्तर के चिकित्सालयों में भर्ती हैं। अब तक कुल 3,52,830 लोगों ने होम आइसोलेशन का विकल्प चुना है, जिनमें से 3,51,546 लोगों के इलाज की समयावधि पूर्ण होने पर उन्हें डिस्चार्ज घोषित कर दिया गया है।

अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि राज्य में संक्रमण के प्रारंभ होने से लेकर अब तक कुल 5,87,661 व्यक्ति इलाज के बाद पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं। वहीं राज्य में मार्च से लेकर अब तक संक्रमण से कुल 8,680 लोगों की मौत हुई है। बीते चौबीस घंटे में छह लोगों की मौत हुई है।

अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि कल प्रदेश में 1,29,192 कोरोना नमूनों की जांच की गई। वहीं अब तक राज्य में कुल 2,83,40,622 नमूनों की जांच की जा चुकी है।

उन्होंने बताया कि ई संजीवनी पोर्टल का प्रदेशवासी लगातार उपयोग कर रहे हैं। कल प्रदेश में 4,830 लोगों ने ई संजीवनी पोर्टल के जरिए घर बैठे चिकित्सकों से परामर्श प्राप्त किया। राज्य में अब तक कुल 4,75,879 लोग ई संजीवनी पोर्टल के जरिए चिकित्सा परामर्श ले चुके हैं।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में सर्विलांस का कार्य लगातार जारी है। सर्विलांस टीम के माध्यम से 1,84,733 क्षेत्रों में 5,10,551 टीम दिवस के माध्यम से 3,14,26,232 घरों के 15,26,37,514 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया जा चुका है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper