UP News : नैनीताल में धरा गया इनामी तांत्रिक, दूसरे की पत्नी के साथ उड़ा रहा था गुलछर्रे

नैनीताल। तल्लीताल(नैनीताल) थाना पुलिस ने उत्तर प्रदेश, शामली के 10 हजार रुपये के इनामी तांत्रिक को एक महिला के साथ किया है। महिला का नाम महेंद्रू बताया गया है। वह किसी दूसरे की पत्नी है, जिसे तांत्रिक सम्मोहित करके अपने साथ लाया था। आरोपित तांत्रिक और महिला को थाना पुलिस ने उत्तर प्रदेश पुलिस के सुपुर्द कर दिया है।

नैनीताल

जानकारी के अनुसार गत माह 29 सितंबर को तांत्रिक जोनू पुत्र ऋषिपाल निवासी ग्राम खोड़समा, चौकी चौसाना, थाना झिंझाना, शामली (उत्तर प्रदेश) अपने ही गांव की मुमतीज पुत्र पाली राम की 32 वर्षीय पत्नी नरेशी तथा उसके 10 वर्षीय बेटे शिवा को वश में करके पांच-छह सोने के आभूषण, 35 हजार रुपये नकद लेकर भगा ले गया है।

पीड़ित मुमतीज ने इसकी शिकायत थाना झिंझाना पुलिस में की थी। इस पर झिंझाना पुलिस उन दोनों की तलाश में जुटी तो उनकी अंतिम लोकेशन नैनीताल पाई गई। मुमतीज ने पुलिस को बताया था कि तांत्रिक उसके बेटे की किसी तांत्रिक क्रिया के तहत हत्या कर सकता है।

इस पर झिंझाना पुलिस एक टीम मंगलवार 26 अक्टूबर को नैनीताल पहुंची और तल्लीताल थाना पुलिस से मदद मांगी। थाना प्रभारी रोहताश सिंह सागर ने उप निरीक्षक दीपक बिष्ट व चीता मोबाइल प्रभारी शिवराज राणा को यूपी पुलिस की मदद के लिए नियुक्त किया। इसमें पता चला कि जोनू और रवि के पास कोई मोबाइल नहीं था। उन्होंने अपना मोबाइल सिम यहां आकर तोड़कर फेंक दिया था। अलबत्ता उन्होंने नगर के हारुन पुत्र अफजाल निवासी मल्लीताल के सिम से फोन किया था।

इस पर जोनू और महेंद्रू नाम की महिला को हारुन के माध्यम से तल्ला कृष्णापुर में एक गधेरे के पास स्थित एक घर से गिरफ्तार किया गया लेकिन उसके पास से पीड़ित मुमतीज की पत्नी और बच्चा नहीं मिले।

इधर जांच में यह भी पता चला कि तांत्रिक जोनू के चेले रवि ने कुछ दिन मल्लीताल बड़ा बाजार स्थित एक मिष्ठान्न भंडार में कुछ दिन बिना सत्यापन कराए नौकरी की और करीब एक सप्ताह पहले वह एक महिला और बच्चे के साथ अपने गांव जाने की बात कहकर चला गया था। इससे माना जा रहा है कि महिला और बच्चा उसके साथ ही गए हैं।

Madhya Pradesh : आज थम जायेगा चुनाव प्रचार का सिलसिला, उपचुनावों में सभी पार्टियों ने झोका दम

उत्तर प्रदेश की झिंझाना पुलिस मुख्य आरोपित के पकड़े जाने के साथ मानकर चल रही है कि अब उसकी निशानदेही में उसके चेले और उसके कब्जे से महिला तथा उसके बेटे को बरामद कर लिया जाएगा।

बताया गया है कि यह गिरोह बिहार में भी ऐसी ही घटना को अंजाम दे चुका है। वह एक स्थान पर कुछ दिन ठहरकर खासकर महिलाओं को उनका भाग्य बदलने का झांसा लेकर अपने वश में करके उनकी धन-संपत्ति लेकर फरार हो जाते हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper