केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान के भाई की कोरोना से मौत, पंचायत चुनाव के दौरान हुए थे संक्रमित

यूपी में पंचायत चुनाव के बाद कोरोना संक्रमण ने गांवों को तेजी से चपेट में लेना शुरू कर दिया है। पंचायत चुनाव के दौरान कोरोना संक्रमण की चपेट में आए केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान के भाई जितेंद्र बालियान का निधन हो गया। वे पंचायत चुनाव में ग्राम प्रधान चुने गए थे. जितेंद्र बालियान का कई दिनों से कोरोना का इलाज ऋषिकेश एम्स में चल रहा था। वहीं जितेंद्र के बड़े भाई राहुल बालियान भी कोराेना पाॅॅजिटिव हैं और ऋषिकेश में ही उनका भी इलाज चल रहा है।

यूपी पंचायत चुनाव में ड्यूटी करने वाले शिक्षकों, शिक्षा मित्रों, अनुदेशकों और बेसिक शिक्षा विभाग के कर्मचारियों की कोविड-19 संक्रमण से मौत का सिलसिला जारी है। अब तक शिक्षा विभाग के 1,621 कर्मचारियों की मौत हो चुकी है। यह जानकारी खुद उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षा संघ ने दी है।

हालांकि, प्रशासन ऐसी मौतों को सामान्य बताने में जुटा है। ताजा उदाहरण रायबरेली का है, जहां चुनाव ड्यूटी के बाद शिक्षकों की मौत को जिला प्रशासन सामान्य मौत बता रहा है। वहीं, स्थानीय विधायक अदिति सिंह ने सीएम योगी आदित्यनाथ को पत्र में इन सभी मौतों के लिए चुनावी ड्यूटी के दौरान हुए कोरोना संक्रमण को जिम्मेदार बताया है। उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि अब तक जिले में 52 शिक्षक/शिक्षा मित्र/अनुदेशकों की चुनावी ड्यूटी के दौरान कोरोना संक्रमण होने से मौत हो चुकी है। विधायक अदिति सिंह ने इन शिक्षकों के परिजनों को क्षतिपूर्ति के लिए राज्य सरकार से अनुरोध किया है, ताकि उनके परिवारों का भरण-पोषण हो सके।

Related Articles

Back to top button
E-Paper