उप्र:गाजियाबाद के अपर जिला जज ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, जांच शुरु

आत्महत्या

गाजियाबाद: दिल्ली से सटे गाजियाबाद जिले में अपर जिला जज-9 योगेश कुमार(45)ने शुक्रवार की सुबह को अपने सरकारी आवास में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या करने की वजह का अभी तक खुलासा नहीं हो पाया है। मौके पर पहुंचकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू कर दी है। 

मूलरूप से मेरठ निवासी योगेश कुमार गाजियाबाद में अपर जिला जज-9 थे और मॉडल टाउन स्थित जज कॉलोनी में परिवार के साथ रह रहे थे। एसोसिएशन के सचिव मनमोहन शर्मा ने बताया कि योगेश कुमार आज अपने घर के कमरे में गए और कुंडी लगाकर फांसी पर झूल गए। कुछ देर बाद ही उनकी पत्नी ने दरवाजा खटखटाया तो कोई रिस्पॉन्स नहीं मिला। काफी देर दरवाजा खटखटाने के बाद जब योगेश कुमार ने दरवाजा नहीं खोला तो उन्होंने पुलिस को इसकी सूचना दी।

किसान आंदोलन को लेकर गरमाई सियासत, केशव प्रसाद मौर्य ने दी विपक्षियों को हिदायत

पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दरवाजा तोड़ा और देखा तो योगेश कुमार का शव लटका हुआ है। पुलिस उन्हें तत्काल ही यशोदा अस्पताल इलाज के लिए ले गई, लेकिन डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। योगेश कुमार की 17 मार्च 2020 को गाजियाबाद जिला अदालत में नियुक्ति हुई थी। 

सीओ द्वितीय अवनीश कुमार ने बताया कि अपर जिला जज योगेश कुमार ने सुसाइड किया है। आत्महत्या के कारणों का पता लगाया जा रहा है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है। 

Related Articles

Back to top button
E-Paper