सीरिया पर अमेरिका का हमला, बाइडेन के राष्ट्रपति बनने के बाद पहली सैन्य कार्रवाई

वॉशिंगटन। अमेरिका ने सीरिया पर हवाई हमला किया है। यह राष्ट्रपति जो बाइडेन के शासन में की गई पहली सैन्य कार्रवाई है।

सीरिया

पेंटागन के अनुसार पिछले दो हफ्तों में ईरानी मीलिशिया ने अमेरिकी सुरक्षाबलों पर हमला किया था जिसके बदले में अमेरिका ने यह हमला किया है।

स्थानीय मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार एक अमेरिकी अधिकारी ने बताया कि हमले में कई ईरानी मीलिशिया मारे गए हैं। रक्षा सचिव लॉयड ऑस्टिन ने बताया कि जिनपर हमला किया गया, वे वही लोग थे जिन्होंने अमेरिकी बलों पर हमला किया था।

पेंटागन के प्रवक्ता जॉन किर्बी ने बताया कि राष्ट्रपति बाइडेन के आदेश पर यह हमला किया गया। उन्होंने यह भी बताया कि बॉर्डर कंट्रोल पॉइंट पर स्थित कई सुविधाओं को नष्ट किया गया जो ईरान समर्थित मिलिशिया ग्रुप के प्रयोग में आती हैं। इसमें कतैब हेजबुल्लाह और कतैब सईद अल सुहादा शमिल हैं।

इस अभियान से एक स्पष्ट संदेश जाता है कि अमेरिकी गठबंधन के सैनिकों की सुरक्षा के लिए राष्ट्रपति बाइडेन कार्य करेंगे। प्रेस कांफ्रेंस के दौरान ऑस्टिन ने बताया कि हमें अपने लक्ष्य पर विश्वास था और यह भी पता था कि हम कामयाब होंगे। हम जानते हैं कि हमने क्या किया है। हमने इराक के लोगों को प्रोत्साहित किया कि वह हमें खुफिया जानकारी दें और इस योजना में कामयाब भी हुए। इससे हमें हमारे लक्ष्य तक पहुंचने में मदद मिली।

पेंटागन की ओर से बताया गया है कि बाइडेन ने सहयोगियों से सलाह लेने के बाद हमले को अधिकृत किया था।

Related Articles

Back to top button
E-Paper