Uttar Pradesh : अस्पताल के शौचालय में नवजात ने लिया जन्म, कमोड में सर फंसने से हुई मौत

उत्तर प्रदेश(Uttar Pradesh) के कानपुर शहर से एक बेहद हैरान कर देने वाली खबर सामने आ रही है. कानपुर में स्थित अस्पताल में एक महिला ने शौचालय में एक बच्चे को जन्म दिया. दुर्भाग्य से उस बच्चे के साथ बेहद अजीब हादसा हो गया और नवजात पैदा होते ही ये दुनिया छोड़कर चला गया.

Uttar Pradesh

डाक्टरों की लापरवाही से गयी जान

जानकारी के मुताबिक, कानपुर के हैलट हॉस्पिटल में प्रसव पीड़ा से चीखती हुई महिला इमरजेंसी वार्ड में उसके परिजनों द्वारा लाई गयी. लेकिन डाक्टरों ने उसे एडमिट करने से इंकार कर दिया. महिला का पति मोईन डाक्टरों के हाँथ-पैर जोड़कर गुहार लगाता रहा लेकिन उसकी किसी ने भी नहीं सुनी. आखिकार जब 30 वर्षीय महिला हसीन बानो अपनी प्रसव पीड़ा को नहीं बर्दाश्त कर पायीं तब उन्हें मजबूरन टॉयलेट की ओर चल दीं.

टॉयलेट सीट में फंसा बच्चे का सर

गर्भवती महिला ने बच्चे को शौचालय में जन्म दिया लेकिन जन्म लेते ही बच्चे का सर टॉयलेट सीट ले साइमन में फंस गया. हालांकि, अस्पताल के स्टाफ ने उस टॉयलेट सीट को तोड़कर बच्चे को बाहर निकलने की कोशिश की, लेकिन जब तक वे लोग पूरी प्रक्रिया को अंजाम दे पाते, तब तक बहुत देर हो चुकी थी. एक नवजात शिशु डाक्टरों कि लापरवाही का शिकार हो गया.

नमस्ते न करने पर घर तक किया पीछा और दरवाजा तोड़कर की फायरिंग

गंभीर है मामला, लेंगे एक्शन

हैलट अस्पताल(Uttar Pradesh) में हुई घटना पर लाला लाजपत राय अस्पताल के गणेश शंकर विद्यार्थी ने बयान दिया कि जो कुछ भी हुआ वह बेहद शर्मनाक है. हम इसको कतई नज़रंदाज़ नहीं कर सकते हैं. हम कमिटी बनाकर इस घटना की तह तक जायेंगे और जो भी इस घटना के जिम्मेदार होंगे उन्हें सबक सिखाया जायेगा.

Related Articles

Back to top button
E-Paper