उत्तराखंड : टनल में ‘जिंदगी’ की तलाश, हटने लगा मलबा, निकलने लगे शव

टनल

उत्तराखंड में चमोली आपदा के नौवें दिन सोमवार को चार शव और मिलने से मृतक संख्या बढ़कर 54 हो गई। रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटे जांबाज तपोवन टनल में ‘जिंदगी’ की तलाश कर रहे हैं। सोमवार दोपहर डेढ़ बजे तक तपोवन टनल से तीन और एक शव  मैठाणा के पास बरामद हुआ है। तपोवन टनल में अब भी करीब 35 लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका है।

जिले के तपोवन-रैणी में 7 फरवरी को ग्लेशियर टूटने से भारी तबाही हुई है। इस आपदा में 206 लोग लापता हो गए थे। इनमें दो लोगों को सकुशल बचाया जा चुका है। टनल के पास मौजूद परिजनों को अब लापता ‘अपनों’ के जीवित होने की आस टूटने लगी है। लोग कह रहे हैं कि सही सलामत शव मिल जाए तो वह परंपराओं के अनुसार अंतिम संस्कार कर सकें।

चंडीगढ़ में महिला कांग्रेस अध्यक्ष की कोठी पर देर रात फायरिंग, पुलिस ने दो लोगों को दबोचा

जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया एवं पुलिस अधीक्षक यशवंत सिंह चौहान ने सोमवार को  एनडीआरएफ और एसडीआरएफ के अधिकारियों के साथ तपोवन वैराज क्षेत्र का चप्पा-चप्पा छाना। यहां मलबा हटाया जा रहा है। वैराज के एक छोर से एप्रोच रोड बनाकर पोकलैंड मशीन से नदी के बहाव को बैराज में जाने से रोका गया है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper