विशाल ददलानी ने कंगना को लताड़ा, कहा- ‘फिर कभी भूलने की हिम्मत न करें’

अभिनेत्री कंगना रनौत एक बार फिर से विवादों में आई हैं। पिछले दिनों उन्होंने एक ऐसा बयान दे दिया, जिसके बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने और देश के कई नेताओं ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया। इस बयान की वजह से कई जगह कंगना के खिलाफ शिकायत भी दर्ज करवाई गई और उन पर कार्रवाई करने की भी मांग की गई। साथ ही, कुछ लोगों ने तो उनसे उनसे पद्मश्री सम्मान वापस लिए जाने की भी मांग कर डाली।

कंगना

दरअसल, कंगना रनौत ने हाल ही में एक टीवी कार्यक्रम में कहा था, ‘सावरकर, रानी लक्ष्मीबाई और नेताजी सुभाषचंद्र बोस इन लोगों की बात करूं तो ये लोग जानते थे कि खून बहेगा, लेकिन ये भी याद रहे कि हिंदुस्तानी-हिंदुस्तानी का खून नहीं बहाए। उन्होंने आजादी की कीमत चुकाई, पर वो आजादी नहीं थी वो भीख थी, और जो आजादी मिली है वो 2014 में मिली है।’कंगना के इस बयान के बाद वह ट्रोलर्स के निशाने पर आ गई।

राजकुमार राव और पत्रलेखा ने कराया प्री-वेडिंग फोटो शूट्स, शुरू हुई शादी की रस्मे

इस पोस्ट पर अब बॉलीवुड के मशहूर म्यूजिक डायरेक्टर विशाल ददलानी ने उन्हें जवाब दिया है। उन्होंने अपने इंस्टा अकाउंट पर अपनी एक तस्वीर शेयर की है, जिसमें उनके टीशर्ट पर शहीद सरदार भगत सिंह की तस्वीर प्रिंट की हुई है और उसमें लिखा हुआ है, ‘जिंदाबाद’.

तस्वीर के साथ उन्होंने लिखा है, ‘उस महिला को याद दिलाएं जिसने कहा था कि हमारी आजादी ‘भीख’ थी। मेरी टी-शर्ट पर शहीद सरदार भगत सिंह, कवि दार्शनिक, स्वतंत्रता सेनानी, भारत के पुत्र और एक किसान के पुत्र हैं। उन्होंने 23 साल की उम्र में हमारी आजादी के लिए, भारत की आजादी के लिए अपनी जान दे दी और अपने होठों पर एक मुस्कान और एक गीत के साथ फांसी पर चढ़ गए।’

विशाल ने आगे लिखा, ‘उन्हें (कंगना) याद दिलाएं, सुखदेव की, राजगुरु की, अशफाकउल्लाह की, और उन सभी हजारों लोगों की, जिन्होंने झुकने से इनकार कर दिया, भीख मांगने से इनकार कर दिया। उन्हें विनम्रता से याद दिलाएं, लेकिन दृढ़ता से, ताकि वह फिर कभी भूलने की हिम्मत न करें।’

Related Articles

Back to top button
E-Paper