बिहार में दूसरे चरण के लिए मतदान शुरू, 17 जिलों की 94 सीटों पर डाले जा रहे वोट

– अतिसंवेदनशील आठ सीटों पर सुबह सात से शाम चार बजे तक मतदान
– 86 सीटों पर शाम छह बजे तक डाले जाएंगे वोट
– सुरक्षा बंदोबस्त के लिए 15 हजार अर्द्धसैनिक बलों की तैनाती

पटना। बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में 17 जिलों की 94 सीटों पर कोविड गाइडलाइन पर अमल करते हुए मंगलवार सुबह कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मतदान शुरू हो गया।

मतदान

आज सुबह पटना में राज्‍यपाल फागू चौहान ने अपने बूथ पर पहला वोट डाला। राजधानी पटना के राजेंद्रनगर स्थित सेंट जोसेफ हाईस्कूल मतदान केंद्र पर उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने वोट डाला। साथ ही लोगों से अधिक से अधिक संख्या में वोट डालने की अपील की। भाई प्रिंस राज के साथ चिराग पासवान कतार में लगकर वोट डालने के लिए पहुंचे। दरभंगा और गोपालगंज में ईवीएम खराब होने की वजह से क्रमशः एक और दो बूथों पर मतदान शुरू नहीं हो पाया।

अतिसंवेदनशील आठ सीटों पर सुबह सात से शाम चार बजे तक वोट डाले जायेंगे जबकि 86 सीटों पर शाम छह बजे तक मतदान होगा। निर्वाचन आयोग के अनुसार सुरक्षा की मुकम्मल व्यवस्था की गई हैं। 15 हजार अर्द्धसैनिक बलों की तैनाती की गई है। 104 जगहों पर चेक पोस्ट बनाये गये हैं। शांतिपूर्ण और निष्पक्ष चुनाव के उद्देश्य से दूसरे चरण वाले चुनाव क्षेत्रों में आज धारा 144 लागू रहेगी। सुबह पांच से शाम छह बजे तक सभी प्रकार के वाहनों का परिचालन और आग्नेयास्त्र लेकर चलने पर रोक रहेगी।

इस चरण के लिए 1,463 उम्मीदवार मैदान में हैं। इनमें 1316 पुरुष, 146 महिला और एक थर्ड जेंडर प्रत्याशी हैं। इस चरण में कुल 2,85,50,285 लोग अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने के योग्य हैं। इनमें 15,033,034 पुरुष, 1,35,16,271 महिलाएं और 980 ट्रांसजेंडर मतदाता भी शामिल हैं। जिन जिलों में मतदान होंगे उनमें प. चम्पारण, पूर्वी चम्पारण, शिवहर, सीतामढ़ी, मधुबनी, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज, सीवान, सारण, वैशाली, समस्तीपुर, बेगूसराय, खगड़िया, भागलपुर, नालंदा तथा पटना शामिल हैं।

दूसरे चरण में महाराजगंज विधानसभा क्षेत्र में सबसे अधिक 27 उम्मीदवार तथा दरौली विधानसभा क्षेत्र में सबसे कम चार उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। इसमें भाजपा के 44, जदयू के 34, राजद के 52, कांग्रेस के 22, भाकपा के 4, माकपा के 4 उम्मीदवार के अलावा रालोसपा के 33, बसपा के 31 तथा लोजपा के 44 प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं। इन 94 विधानसभा क्षेत्रों में 41,362 मतदान केंद्र बनाये गये हैं। दूसरे चरण में क्षेत्र के हिसाब से सबसे बड़ा विधानसभा क्षेत्र पीरपैंती है, जबकि मतदाता के अनुसार सबसे बड़ा विधानसभा क्षेत्र दीघा तथा सबसे छोटा चेरिया बरियारपुर है। इस चरण से भाजपा को खासी उम्‍मीदें हैं। 94 में से 46 सीटों पर बीजेपी ने उम्‍मीदवार उतारे हैं।

दूसरे चरण में विपक्षी महागठबंधन की ओर से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव राघोपुर से, उनके बड़े भाई तेजप्रताप यादव हसनपुर से चुनाव लड़ रह हैं। राघोपुर को आरजेडी और खासकर लालू यादव परिवार का गढ़ माना जाता है। ऐसे में इस सीट पर भी पूरे देश की निगाहें रहेंगी। आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव ने इस चुनाव में अपनी सीट बदल ली है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper