पश्चिम बंगाल : 8 चरणों में मतदान पर ममता के बाद अब वाम मोर्चा ने भी उठाये सवाल

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में चुनाव कराए जाने के आयोग के फैसले को लेकर ममता बनर्जी के बाद वाम मोर्चा ने भी सवाल उठाया है। वाम मोर्चा अध्यक्ष विमान बोस ने कहा है कि एक ही जिले में दो या तीन चरणों में चुनाव क्यों कराए जा रहे हैं? हालांकि भारतीय जनता पार्टी ने इसे लेकर दोनों ही पार्टियों पर सवाल खड़ा किया है और कहा है कि चुनाव में जब सभी पार्टियों को बराबर मौका मिलना है और अधिक चरणों में मतदान होने पर कड़ी सुरक्षा में शांतिपूर्वक तरीके से संपन्न हो सकेगा तो आखिरकार सत्तारूढ़ पार्टी से लेकर वाममोर्चा तक इस पर सवाल खड़ा क्यों कर रहे हैं?

वाम मोर्चा

इसे लेकर विमान बोस ने कहा, “मुझे समझ नहीं आ रहा है कि एक जिले में दो या तीन चरणों में चुनाव कराए जा रहे हैं। साल 1958 से चुनाव देख रहा हूं लेकिन आज तक कभी ऐसा नहीं हुआ कि एक जिले को कई पार्ट में बांट कर  चुनाव कराए गए हों।”

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि बंगाल में इस बार भाजपा की सरकार बननी तय है और उसके बाद केवल एक चरण में चुनाव हुआ करेगा। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी के शासनकाल में जिन लोगों को सुरक्षा मिली हुई है उनकी सुरक्षा वापस ले ली जाएगी। दरअसल चुनाव आयोग ने पश्चिम बंगाल में 27 मार्च से 29 अप्रैल के बीच आठ चरणों में मतदान कराने की घोषणा की है जिसे लेकर शुक्रवार को ही मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सवाल खड़ा किया था। कई जिलों में दो या तीन चरणों में चुनाव हो रहे हैं जिसकी वजह से सवाल खड़े किए जा रहे हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper