बंगाल में गरजे सीएम योगी, बोले- ‘BJP की सरकार बनते ही TMC के गुंडे जान की भीख मांगेंगे’

बंगाल

पश्चिम बंगाल में चुनावों का ऐलान होने के बाद बीजेपी ने अपनी पूरी ताकत चुनाव प्रचार में झोंक दी है। इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राज्य के मालदा पहुंचे। जहां जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा, “मित्रों आज बंगाल के अंदर एक बार फिर जय श्रीराम के नारे को प्रतिबंधित करने का काम किया जा रहा है, लेकिन याद रखना भारत की जनता राम के बिना कोई काम नहीं करती, जब आपस में मिलती है तो राम-राम कहती है, घर में कोई काम होता है तो राम-राम का जप करती है और जब किसी प्रियजन की अंतिम यात्रा भी निकालती है तो ‘राम नाम सत्य है’ के साथ ही उस यात्रा को आगे बढ़ाने का काम करती है।”

उन्होंने कहा, “राम के बगैर भारत का कोई काम ही नहीं, जो रामद्रोही हैं उनका भी भारत में कोई काम नहीं, बंगाल में कोई काम नहीं। टीएमसी से पूछना चाहता हूं कि आपको रामभक्तों पर तो कोई रहम नहीं, लेकिन बंगाल के अंदर अराजकता पैदा करने वाले लोगों के साथ आखिर टीएमसी की कौनसी दोस्ती है, जिसके कारण वह बंगाल की पूरी की पूरी व्यवस्था को बदलने पर उतारू हो गए हैं।”

उन्होंने कहा, “प्रधानमंत्री मोदी जी, पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के पीड़ित और प्रताड़ित हिंदू, सिखों, बौद्धों, जैनियों, ईसाइयों को सुरक्षित ठिकाना देने के लिए एक कानून बनाते हैं और उस कानून को भारत के अंदर लागू करते हैं तो बंगाल में हिंसा शुरू होती है, यह सत्ता प्रायोजित हिंसा क्यों? यहां पर एक तरफ प्रताड़ित मानवता को शरण देने की बात होती है तो यहां की सरकार विरोध करती है लेकिन जब घुसपैठियों को बाहर करने की बात होती है तो सरकार तिलमिला जाती है।”

योगी आदित्यनाथ ने कहा, “3 साल में यूपी में 40 लाख लोगों को आवास मिला, लेकिन यहां पर एक भी गरीब का पक्का मकान नहीं है, प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ यहां के गरीबों को नहीं मिल पा रहा। यूपी में 6 करोड़ गरीबों को आयुष्मान भारत में 5 लाख रुपए की स्वास्थ्य बीमा का कवर है, वह कहीं भी किसी भी अस्पताल में यूपी या देश में कहीं भी जाएगा तो उसे लाभ मिलेगा। लेकिन, बंगाल के नागरिकों को यह लाभ नहीं दिया जा रहा।”

उन्होंने कहा, “धोखे से यहां पर लव जिहाद की घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है, हमने यूपी में कानून बना दिया लेकिन बंगाल में क्योंकि तुष्टिकरण की राजनीति है, गौ तस्करी को यहां की सरकार नहीं रोक पा रही और न ही लव जिहाद की उन घातक गतिविधियों को रोक पा रही है, जिसका दुष्परिणाम आने वाले समय में खतरनाक होने जा रहा है।” उन्होंने कहा, “30 साल पहले भारत का हर नौजवान अपने रोजगार के लिए बंगाल आता था लेकिन 25-30 सालों में बंगाल को बदहाल कर दिया गया।”

यूपी के सीएम योगी ने कहा, “अयोध्या में भगवान राम के मंदिर के निर्माण का कार्य प्रारंभ हो गया है, निधि समर्पण के साथ बंगाल के लोगों ने जो योगदान दिया है, उसके लिए हृदय से सभी का अभिनंदन। बंगाल के अंदर भाजपा की सरकार को लाइए और अयोध्या में भगवान राम के मंदिर में दर्शन करके बंगाल को समृद्धि कीजिए।”

उन्होंने कहा, “इतने लंबे समय तक मुख्यमंत्री रहने वाला व्यक्ति इस तरह से आपा खो दे, यह बड़ी विचित्र स्थिति है। उनके द्वारा जिस तरह के वक्तव्य दिए जा रहे हैं, वह बंगाल का अपमान है।” उन्होंने कहा, “आप देख रहे हैं, गंगा मइया को उत्तराखंड से उत्तर प्रदेश, बिहार और झारखंड होते हुए पश्चिम बंगाल से गंगा सागर जाती है। यह पूरे भारत को जोड़ती है।”

योगी ने कहा, “उत्तर प्रदेश में कोई गौ हत्या नहीं कर सकता, हमारी सरकार 2017 में आई थी और 2017 में आते ही उत्तर प्रदेश के अंदर गौ तस्करी और गैरकानूनी कसाई खाने 24 घंटे में बंद हो गए थे। आप भाजपा की सरकार को लाइए 24 घंटे में सभी गैर कानूनी कसाई खाने बंद हो जाएंगे, तस्करी बंद हो जाएगी, गौ तस्करों को पता चल जाएगा कि इसका क्या दुष्परिणाम होगा।”

उन्होंने कहा, “यूपी में 4 वर्षों में कोई दंगा नहीं हुआ, किसी पर्व और त्यौहार को मनाने से वहां रोक नहीं सकता। कोई भी यात्रा वहां प्रतिबंधित नहीं है। यहां तो न्यायपालिका को यहां की सरकार से कहना पड़ता है कि अगर यूपी में दुर्गा पूजा का आयोजन हो सकता है तो यहां क्यों नहीं हो सकता? यहां की सरकार ने मुहर्रम के जुलूस को अनुमति दी लेकिन दुर्गा पूजा के पंडालों पर प्रतिबंध लगा दिया था।”

उन्होंने कहा, “यूपी में हम लोगों ने कहा कि दुर्गा पूजा का जो समय होगा, उस समय ही पूजा होगी, उसमें हम कोई व्यवधान नहीं पड़ने देंगे। बंगाल में पूजा को प्रतिबंधित किया जाता है, भावनाओं के साथ खिलवाड़ होता है, गो तस्करों को संरक्षण दिया जाता है।” उन्होंने कहा, “स्वामी विवेकानंद ने कहा था, वैश्विक मंच पर जाकर उन्होंने भारत को जागृत करने का आव्हान किया था। उन्होंने कहा था, गर्व से कहो हम हिंदू हैं, उनका व्यक्तव्य तो भारत को जोड़ने वाला था।”

बंगाल में गठबंधन पर रार के बीच बोले अधीर रंजन, ‘आनंद शर्मा की नीयत में खोट’

योगी ने कहा, “1 महीने का समय है, एक महीने में परिवर्तन जमीन पर दिखाई देगा, टीएमसी के नाम पर जो लोग गुंडागर्दी कर रहे हैं, यूपी में जो लोग पहले गुंडागर्दी करते थे, वे लोग गलियों में तख्ती बांधते हुए चलते हैं कि रहम कर दो। मैं देख रहा था एक तस्वीर, भाजपा के एक कार्यकर्ता की बुजुर्ग माता को टीएमसी के गुंडों ने बेरहमी के साथ पीटा और उनके मुंह पर जो सूजन थी, उसको देखते हुए आंसू आ रहे थे कि कितने बेरहम और बर्बर हैं ये लोग, एक महिला को भी नहीं छोड़ते।

उन्होंने कहा, “अपराधी अगर अपराध करता है तो पुलिस का काम है उसके खिलाफ कार्रवाई करना। लेकिन, अगर शासन और प्रसाशन उस अपराधी के खिलाफ कार्रवाई के बजाय कहें कि सूजन पीटने से नहीं आई है। सूजन तो मामूली विवाद से खड़ा हुआ है।”

सीएम योगी ने कहा, “चुनाव की प्रक्रिया प्रारंभ हो चुकी है, मानकर चलिए 2 मई के बाद भाजपा की जब सरकार बनेगी तो टीएमसी और कम्युनिस्टों के नाम पर गुंडागर्दी और अराजकता फैलाने वाले गुंडे अपने गले में तख्ती लेकर घूमते हुए फिरेंगे। जो भी कानून के साथ खिलवाड़ करेगा उसको अपनी जान की भीख मांगने के लिए मजबूर होना पड़ेगा।” उन्होंने कहा, “अभी हमारा होली का पर्व होने जा रहा है, आपका अभिनंदन करता हूं और होली के उत्सव को चुनाव के साथ जोड़ते हुए रंग बिरंगी होली के साथ 2 मई को बंगाल के अंदर सांस्कृति राष्ट्रवाद की दीपावली का उत्सव भी मनाया जाना चाहिए।” उन्होंने ‘जय श्रीराम’ के साथ भाषण का अंत किया।

Related Articles

Back to top button
E-Paper