कौन बनेगा अमेरिका का राष्‍ट्रपति? बहुमत के लिए चाहिए 270 इलेक्‍टोरल वोट

(इस खबर में लगातार अपडेट जारी है… ताजा जानकारी के लिए इस पेज को रिफ्रेश करते रहें)

वाशिंगटन। अमेरिका में राष्‍ट्रपति चुनाव के लिए वोटिंग जारी है। भारतीय समय के अनुसार सुबह साढ़े 11 बजे वोटिंग खत्‍म हो जाएगी। इसके साथ ही अब अमेरिका का राष्‍ट्रपति चुनने के लिए इलेक्‍टोरल वोटों की गिनती भी शुरू हो गई है। इसमें डेमाक्रेटिक पार्टी के उम्‍मीदवार जो बिडेन, रिपब्लिकन पार्टी के उम्‍मीदवार और मौजूदा राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के आगे चल रहे हैं।

बता दें कि अमेरिका का राष्ट्रपति चुनाव जीतने के लिए किसी भी उम्‍मीदवार को 270 इलेक्टोरेल वोट का बहुमत चाहिए। जबकि यहां कुल इलेक्टोरेल वोट की संख्या 538 है। हालांकि इस बार अधिकतर वोट मेल-इन के जरिए डाले गए हैं, ऐसे में शुरुआती नतीजों और अंतिम नतीजों में भारी अंतर देखने को मिल सकता है।

अब तक सामने आए रुझानों में जो बिडेन राष्‍ट्रपति की रेस में आगे चल रहे हैं। जहां बिडेन को अब तक 223 इलेक्‍टोरल वोट मिले हैं, वहीं ट्रंप को अब तक सिर्फ 174 वोट ही हासिल हुए हैं।

ट्रंप और बाइडन को जहां जीत के अनुमान थे, वहां उन्होंने जीत दर्ज की जबकि फ्लोरिडा, जॉर्जिया, नॉर्थ कौरोलाइना, विस्कॉन्सिन, मिशिगन और पेंसिल्वेनिया सहित अहम राज्यों में जीत किसके खाते में दर्ज होगी, फिलहाल कहना मुश्किल है।

पेन्सिलवेनिया में अभी भी कुल वोट के 80 प्रतिशत से ऊपर की गिनती होनी बाकी है।

ट्रंप ने साउथ डकोटा, यूटा, मिसौरी, लुइसियाना, नेब्रास्का, नॉर्थ डकोटा, अरकांसस, अलबामा, मिसिसिपी, ओक्लाहोमा, टेनेसी, केंटकी, वेस्ट वर्जीनिया, व्योमिंग और इंडियाना जीत लिया है जबकि बाइडन ने कोलोराडो, न्यू हैम्पशायर, डिस्ट्रिक्ट ऑफ कोलंबिया, न्यूयॉर्क, वर्मोंट, कनेक्टिकट, डेलावेयर, इलिनोइस, मैरीलैंड, मैसाचुसेट्स, न्यूजर्सी और रोड आइलैंड और कैलिफोर्निया जीत लिया है।

बाइडन ने वर्जीनिया भी जीत लिया है।

मंगलवार को, अमेरिकियों ने कोविड-19 महामारी के बीच रिकॉर्ड संख्या में चुनावों में भाग लिया। कोविड के कारण देश में 232,529 लोगों की मौत हो चुकी है और 9,376,293 संक्रमित हैं।

चुनाव के दिन से पहले, रिकॉर्ड संख्या में अमेरिकियों ने मेल के जरिए वोट डाला है।

पेन्सिलवेनिया में वोटों की गिनती लंबी खींचने की उम्मीद है जबकि मिशिगन की गिनती बुधवार सुबह के शुरूआती घंटों में होने की उम्मीद है।

जहां ट्रंप व्हाइट हाउस से चुनाव परिणमों पर नजर बनाए हुए हैं, वहीं बाइडन और उनकी उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार कमला हैरिस ने डेलवायर को अपने इलेक्शन नाइट हब के रूप में चुना है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper