यूपी: नसबंदी के दौरान महिला की मौत, परिजनों ने किया हंगामा

बागपत। बिनौली थाना क्षेत्र में नसबंदी के दौरान मंगलवार की देर शाम को सीएचसी पर एक महिला की हालत बिगड़ गई। जिसके बाद उसे जिला अस्पताल रेफर किया तो रास्ते में महिला ने दम तोड़ दिया। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। परिजनों ने चिकित्सकों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा खड़ा कर दिया। महिला के पति का आरोप है कि चिकित्सकों ने मृत हालत में उसकी पत्नी को रेफर किया है। उधर, चिकित्सकों ने पल्ला झाड़ते हुए रास्ते में महिला की मौत हार्टअटैक से होना बताया है।

मवीकलां गांव की रहने वाली 28 वर्षीय ज्याेति की शादी धनौरा सिल्वरनगर में अनुज के साथ हुई थी। ज्योति अपने मायके गई हुई थी। मायके पक्ष के लोग ज्योति की नसबंदी कराने के लिए सीएचसी पहुंचे। लगभग तीन बजे सर्जन डाक्टर गुरुचरण सिंह ने ज्योति का ऑपरेशन शुरू किया तो महिला की हालत बिगड़ गई। जानकारी मिलने पर महिला के साथ लोगों ने चिकित्सकों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। चिकित्सकों ने महिला को एंबुलेंस से जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया, लेकिन रास्ते में ही महिला ने दम तोड़ दिया। महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

सीएचसी अधीक्षक डाक्टर अतुल बंसल ने बताया कि ओटी में महिला का जैसे ही ऑपरेशन शुरू किया तो उसकी हालत गंभीर हो गई। जिला अस्पताल के लिए महिला को रेफर किया गया। संभवत रास्ते में महिला की मौत हो गई। मौत का कारण पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही पता चलेगा, लेकिन संभवत हार्ट अटैक के कारण महिला की मौत हुई है। सीएमओ को रिपोर्ट दे दी गई है।

इस मामले में डाक्टर सीएमएस बीएलएस कुशवाहा ने बताया कि बिनौली सीएचसी में ऑपरेशन के दौरान महिला की हालत बिगड़ गई। जिला अस्पताल लाते समय महिला की रास्ते में मौत हो गई। ज्योति के पति अनुज ने बताया कि उसकी पत्नी का सर्जन ने जैसे ही ऑपरेशन शुरू किया तो उसकी हालत गंभीर हो गई और उसकी मौत हो गई। आरोप लगाया कि सीएचसी से उसे मृत हालत में रेफर कर दिया गया। संबंधित चिकित्सकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराएंगे। उधर, शव को देखते ही जिला अस्पताल में परिवार की महिलाओं में कोहराम मच गया।  

Related Articles

Back to top button
E-Paper