सुलतानपुर में महिलायें निभा सकती हैं निर्णायक भूमिका

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज यहां निवास में स्वामी विवेकानंद की जयंती पर उनके चित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया। श्री चौहान ने स्वामी विवेकानंद का स्मरण करते हुए कहा कि उनके अनमोल और ओजपूर्ण विचार हम सभी का सदैव मार्ग दर्शन करते हुए हमें सतपथ पर चलने की प्रेरणा देते रहेंगे। स्वामी विवेकानंद की जयंती पर उन्हें कोटि-कोटि नमन एवं आप सभी को युवा दिवस की बहुत-बहुत शुभकामनाएं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वामी विवेकानंद हमारे आदर्श हैं। वह कहते थे कि मनुष्य केवल साढ़े तीन हाथ का हाड़ मास का पुतला नहीं है। वह ईश्वर का अंश है, अमृत का पुत्र है, अनंत शक्तियों का भंडार है, अमर आनंद का भागी है। दुनिया में ऐसा कोई कार्य नहीं जो मनुष्य ना कर सके। लेकिन उसका माध्यम शरीर ही है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper