योगी राज में महिलाएं, मासूम बच्चियां पूरी तरह असुरक्षित – अजय कुमार लल्लू

लखनऊ। उप्र कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराध पर योगी सरकार पर सोमवार को हमला बोला है। कहाकि महिलाओं के साथ सामूहिक दुष्कर्म, बलात्कार व उनकी हो रही हत्याओं के बाद पुलिस आरोपियों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज न होना, जंगलराज का प्रमाण है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने मेरठ के सरधना में कोचिंग के लिये गयी 13 वर्षीय बेटी के साथ सामूहिक दुष्कर्म व जहर देकर उसको मार डालने वाले आरोपियों के विरुद्ध पांच दिन तक मुकदमा न दर्ज होने पर आपत्ती भी जतायी है। कहाकि योगी सरकार पूरी तरह सामूहिक दुष्कर्म, बलात्कार, हत्या जैसे घृणित अपराध के आरोपियों को संरक्षण देकर उनके हौसले बढ़ा रही है।

कहा कि, उत्तर प्रदेश में मानवता को शर्मसार करने वाली सामूहिक दुष्कर्म, हत्या व हत्या के प्रयास के मामले दिन-प्रतिदिन सामने आ रहे हैं। आगरा, हापुड़, झांसी, अलीगढ़ में दुष्कर्म व हत्या जैसी घटनाएं आए दिन हो रही है। इसके बाद भी कार्यवाही नहीं की गई।

कहा कि, उत्तर प्रदेश में महिलाओं के विरुद्ध बढ़ते अत्याचार, उत्पीड़न पर आरोपियों के साथ खड़े होकर उनके हौसले बढ़ा रही है। लड़कियां दुष्कर्म का शिकार हो रही हैं और मुख्यमंत्री चुनावी पर्यटन पर अन्य राज्यों में जाकर उप्र की बेहतर कानून व्यवस्था का झूठा बखान कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि महिला उत्पीड़न, बलात्कार के बढ़ते मामलों के लिये मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पूरी तरह कठघरे में खड़े हैं। गृह विभाग उनके पास है। बार-बार कानून व्यवस्था बेहतर की बात करने वाले मुख्यमंत्री को बताना चाहिए कि यदि कानून व्यवस्था दुरुस्त है तो आंकड़े के आधार पर उत्तर प्रदेश महिला उत्पीड़न में प्रथम पायदान पर कैसे पहुंचा?

कहा कि, योगी सरकार महिला उत्पीड़न की अनदेखी कर रही है। निर्भया फंड के धन का उपयोग न करना, वीमेन पावर हेल्प लाइन को बंद करना और मुकदमों को दर्ज न होने देना या पीड़िता या उसके परिवार को दर-दर की ठोकरें खाने को विवश करना, यह बताने के लिये पर्याप्त है कि योगी सरकार महिलाओं के साथ अपराध करने वाले अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने के बजाए उनके साथ खड़ी है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper