योगी सरकार ने दी छात्रों के लिए बड़ी राहत, ऑनलाइन पढ़ाई की राह आसान

CM yogi Grieved Gonda Incident Five people died

– नेशनल ब्राडबैंड मिशन योजना दूर करेगी छात्रों की ऑनलाइन पढ़ाई में दिक्‍कत
– गांवों के छात्र आसानी से जुड़ सकेंगे उत्‍तर प्रदेश सरकार की डिजिटल लाइब्रेरी से
– प्रदेश में 60 प्रतिशत से अधिक छात्र ग्रामीण परिवेश के
– कोरोना संक्रमण के चलते प्रदेश में छात्र कर रहे हैं ऑनलाइन पढ़ाई
– उत्‍तर प्रदेश की 45 हजार ग्राम सभाओं में 5 महीने में हाईस्‍पीड इंटरनेट
– छात्रों की ऑनलाइन पढ़ाई में आ रही समस्‍याओं को दूर करेगी उत्‍तर प्रदेश सरकार

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में रहने वाले छात्रों के लिए ऑनलाइन पढ़ाई की राह आसान होगी। प्रदेश की योगी सरकार नेशनल ब्राडबैंड मिशन योजना के तहत ग्रामीण परिवेश में रहने वाले छात्रों को बड़ी राहत देने जा रही हैं। इससे छात्रों को इंटरनेट की खराब कनेक्‍टिवि‍टी की वजह से ऑनलाइन पढ़ाई के दौरान परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। अगले पांच महीनों में उत्‍तर प्रदेश सरकार 45 हजार ग्राम सभाओं को हाईस्‍पीड इंटरनेट से जोड़ने जा रही है। साथ ही वह उत्‍तर प्रदेश सरकार की ओर से शुरू की गई डिजिटल लाइब्रेरी का लाभ उठा सकेंगे और पढ़ाई के लिए कंटेंट को आसानी से डाउनलोड कर सकेंगे।

उत्‍तर प्रदेश में 16 राज्‍य, एक मुक्‍त, 27 निजी विश्‍वविद्यालयों के एक डीम्‍ड विश्‍वविद्यालय है। इसके अलावा 170 शासकीय, 331 अशासकीय महाविद्यालय समेत 7183 निजी महाविद्यालय है। इनमें 1969206 छात्र और 2214786 छात्राएं पढ़ रही हैं। उच्‍च शिक्षा अधिकारी आलोक श्रीवास्‍तव बताते हैं कि देश की 70 प्रतिशत आबादी गांवों में निवास करती हैं। ऐसे में ग्रामीण परिवेश से महाविद्यालय व विश्‍वविद्यालयों में पढ़ने वाले उत्‍तर प्रदेश के छात्रों की संख्‍या 60 प्रतिशत से कम नहीं होगी। गांव में हाईस्‍पीड इंटरनेट सेवा उनके लिए किसी वरदान से कम नहीं होगी।

पांच महीने में 620 ब्‍लाकों में तेज रफ्तार इंटरनेट

नेशनल ब्राडबैंड मिशन योजना के तहत उत्‍तर प्रदेश सरकार मार्च 2021 यानि अगले पांच महीनों में योजना के पहले चरण में सरकार 620 ब्‍लाकों की 45 हजार से अधिक ग्राम पंचायतों में हाई स्‍पीड इंटरनेट सेवा को उपलब्‍ध कराने को काम करेगी।

सरकार की ओर से शुरू की जा रही नेशनल ब्रांडबैंड योजना से ग्रामीण छात्रों को काफी फायदा होगा। कोरोना संकट को देखते हुए यूजीसी ने भी अभी हाल में छात्रों को पाठ़यक्रम का 20 प्रतिशत कंटेंट ऑनलाइन पढ़ाए जाने के निर्देश दिए हैं। इससे निश्चिति ही छात्रों को सरकार की ओर से एक बड़ा तोहफा दिया जा रहा है।

ऑनलाइन पढ़ाई की दिक्‍कत होगी दूर

उत्‍तर प्रदेश प्राविधिक विश्‍वद्यिलाय के कुलपति प्रो विनय कुमार पाठक बताते हैं कि विश्‍वविद्यालय में पढ़ने वाले करीब 65 प्रतिशत छात्र ग्रामीण परिवेश से हैं। नेशनल ब्राडबैंड योजना से जब गांवों में तेज रफ्तार इंटरनेट पहुंचेगा तो ऑनलाइन पढ़ाई के दौरान आ रही उनकी दिक्‍कतें दूर होंगी। इस योजना से युवाओं के एक बड़े तबके को राहत मिलेगी। 

तकनीकी विश्‍वविद्यालयों  में भी बड़ी संख्‍या में ग्रामीण परिवेश के छात्रों के सामने ऑनलाइन पढ़ाई परेशानी का सबब है। ऐसे में नेशनल ब्राडबैंड योजना इन छात्रों को एक बड़ी राहत देगी। एकेटीयू, एचबीटीयू में ऑनलाइन पढ़ाई से जुड़ी दिक्‍कतों को लेकर छात्रों ने अपनी परेशानी प्रशासन को बताई थी।

डिजिटल लाइब्रेरी करेगी पढ़ाई की राह आसान

उत्‍तर प्रदेश सरकार के उपमुख्‍यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने अभी हाल ही में छात्रों को बेहतर ऑनलाइन शिक्षा देने के लिए डिजिटल लाइब्रेरी की शुरुआत की है। उत्‍तर प्रदेश सरकार की डिजिटल लाइब्रेरी में 23 राज्य विश्वविद्यालयों के लगभग 1,700 शिक्षक ने विज्ञान, वाणिज्‍य समेत कई कई विषयों पर 53,000 से अधिक ई-सामग्री सामग्री अपलोड की है। इस कंटेंट को छात्र  मुफ्त में डाउनलोड करके पढ़ाई कर सकते हैं। नेशनल ब्राडबैंड योजना से ग्रामीण परिवेश के छात्र आसानी से इस कंटेंट को डाउनलोड कर सकेंगे।

Related Articles

Back to top button
E-Paper