योगी सरकार की और बड़ी सफलता, यूपी में आईकिया के निवेश को लेकर साइन हुआ एमओयू

लखनऊ उत्तर प्रदेश में निवेश के क्षेत्र में योगी सरकार को एक और बड़ी सफलता मिली है। विश्वविख्यात स्वीडिश कम्पनी आईकिया ने नोएडा में साढ़े पांच हजार करोड़ रुपये के निवेश और 850 करोड़ की जमीन खरीद करने की दिशा में कदम बढ़ाये हैं। केवल जमीन की बिक्री की स्टाम्प ड्यूटी से ही प्रदेश को 56 करोड़ का राजस्व मिलेगा। इस सम्बन्ध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को आईकिया के साथ नोएडा अथॉरिटी के वर्चुअल एमओयू हस्ताक्षर कार्यक्रम में शामिल हुए। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण काल में भी यूपी निवेश लाने में सफल रहा। देश का सबसे बड़ा बाजार उत्तर प्रदेश है। निवेशकों के लिए बनाई पारदर्शी नीतियों का लाभ धरातल पर नजर आ रहा है। 

योगी सरकार

दुनिया के सबसे अच्छे निवेश के लिए निरंतर आ रहे प्रस्ताव

मुख्यमंत्री ने प्रसन्नता जताई कि आईकिया देश के सबसे महत्वपूर्ण स्थल नोएडा में इस निवेश को मूर्त रूप देने जा रहा है। उन्होंने कहा कि हम सभी जानते हैं कि उत्तर प्रदेश भारत का ना केवल आबादी की दृष्टि से सबसे बड़ा राज्य है बल्कि देश के सबसे अधिक युवा भी उत्तर प्रदेश में हैं। देश का सबसे बड़ा बाजार भी अपने आप में उत्तर प्रदेश है। उन्होंने कहा कि भारत के अंदर निवेश की जो सबसे अधिक संभावनाओं वाला क्षेत्र है वह नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना अथॉरिटी क्षेत्र है। इस क्षेत्र में दुनिया के सबसे अच्छे निवेश के लिए हमारे पास निरंतर प्रस्ताव आ रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी ने द्वितीय सरसंघचालक माधवराव सदाशिवराव गोलवलकर को जयंती पर किया नमन

कोरोना संक्रमण काल में निवेश लाने में सफल रहा उप्र

मुख्यमंत्री ने कहा कि जब पूरी दुनिया कोरोना से जूझ रही थी, उस समय हम लोगों ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश की 24 करोड़ की आबादी को इसके संक्रमण से बचाने में सफलता प्राप्त की और अपने स्वास्थ्य इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत किया। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश में बड़े पैमाने पर ना केवल प्रदेश के अन्य हिस्सों बल्कि नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना अथॉरिटी के क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर निवेश को आमंत्रित करने में हम सफल हुए। उन्होंने कहा कि जो कुछ बड़े निवेश इस दौरान वहां पर हुए हैं, इसमें डाटा सेंटर की स्थापना के साथ ही देश के पहले डिस्प्ले यूनिट की स्थापना का कार्य हमारे इस क्षेत्र में तेजी के साथ आगे बढ़ रहा है।

सरकार की पारदर्शी नीतियों-फैसलों का मिल रहा लाभ

मुख्यमंत्री ने प्रसन्नता जताई कि आज इसी क्षेत्र में आईकिया का यह निवेश भी मूर्त रूप लेता हुआ दिखाई दे रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार की नीतियां बेहद पारदर्शी और व्यवस्थित हैं, जिससे किसी भी निवेशक को निवेश करने में किसी भी प्रकार की समस्या नहीं हो। उन्होंने कहा कि प्रदेश के अंदर हम लोग ना केवल निवेशपरक, रोजगारमुखी उद्यमों की स्थापना की दिशा में मजबूती के साथ कदम उठा सकें, बल्कि अधिक से अधिक फॉरेन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट को भी आकर्षित कर सकें इस दृष्टि से प्रदेश सरकार द्वारा बनाई गई नीतियां और उठाए गए कदम बेहद प्रभावी साबित हुए हैं। आज का अवसर इसे और महत्वपूर्ण बना रहा है।

शॉपिंग मॉल, होटल, ऑफिस, रिटेल आउटलेट खोलेगी आईकिया

मुख्यमंत्री ने कहा कि आईकिया अपने आप में एक अंतरराष्ट्रीय संस्था है, जिसे महिला सशक्तीकरण, बाल विकास सहित सामाजिक योजनाओं के क्षेत्र में भी महारत हासिल है। उन्होंने प्रसन्नता जताई कि लगभग 5,500 करोड़ों रुपये के इस निवेश के साथ ही लगभग 850 करोड़ रुपये की लागत से नोएडा की भूमि हस्तांतरण से सम्बन्धित कार्रवाई भी प्रारंभ हो रही है। उन्होंने कहा कि यह प्रदेश के अन्दर प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रोजगार की संभावनाओं को भी आगे बढ़ाने में काफी बड़ी मदद करेगा।

समय सीमा में करेगा निर्माण

आईकिया जन सामान्य के लिए क्षेत्र में न केवल शॉपिंग मॉल, होटल, ऑफिस, रिटेल आउटलेट आदि के निर्माण की कार्रवाई एक समय सीमा के अंदर करेगा बल्कि आने वाले समय में प्रदेश के अन्य शहरों में भी निवेश की संभावनाओं को आगे बढ़ाने में भी अपना योगदान देगा।

Related Articles

Back to top button
E-Paper