लखीमपुर हत्याकांड पर योगी का बड़ा बयान, नही होगी बिना सुबूत के कोई गिरफ्तारी

लखीमपुर हत्याकांड पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने एक बड़ा बयान दिया है. गोरखपुर में सीएम योगी ने एक कार्यक्रम को संबोधित करने के दौरान लखीमपुर दंगे को बेहद शर्मनाक और दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. योगी आदित्यनाथ ने लखीमपुर मुद्दे पर अपनी कड़ी नज़र जमाई हुई है.

लखीमपुर हत्याकांड

सबके लिए समान है कानून

योगी आदित्यनाथ ने आगे लखीमपुर हत्याकांड पर बात करते हुए कहा कि प्रदेश में कानून सबके लिए एक समान है. कोई नेता हो या आम आदमी हमारे प्रदेश में दोषी को सज़ा दंड देना ही प्रावधान है. भारतीय जनता पार्टी की सरकार किसी भी व्यक्ति कानून अपने हाँथ में लेने का हक़ नही देती है. जो भी कानून का उल्लंघन करेगा उसे सज़ा मिलेगी. लेकिन बिना सुबूत के किसी को भी गिरफ्तार नहीं किया जायेगा.

सुबूतों के आधार पर होगी गिरफ्तारी

योगी जी ने कार्यक्रम में लखीमपुर मुद्दे में संलिप्त दोषियों की गिरफ्तारी पर बात करते हुए कहा है कि हमने सरकार को उचित कार्यवाही करने के लिए तुरंत आदेश दे दिए हैं. लेकिन सुप्रीम क्कोर्ट कि रूलिंग के हिसाब से किसी भी इन्सान को घटना स्थल के साक्ष्य और सुबूतों के आधार पर ही दोषी ठहराया जा सकता है.

विपक्षी नहीं हैं दूध के धुले

योगी जी से जब विपक्षी दलों को लखीमपुर जाने पर रोके जाने को लेकर सवाल किये गये तो उन्होंने बेहद सख्त रवैये से जवाब देते हुए कहा कि विपक्ष के लोग कोई दूध के धुले नहीं हैं. उन्हें क्यों रोका गया ? क्यों उन्हें गिरफ्तार किया गया ? इन सभी सवालों का जवाब आपको समय के साथ मिल जायेगा. विपक्षी लोग कोई सद्भावना का सन्देश लेकर नहीं जा रहे थे.

Related Articles

Back to top button
E-Paper