यूपी में योगी का जबरदस्‍त खौफ, ऐसे थाने पहुंचा अपराधी, बोला- गोली मत मारना, और फिर…

यूपी

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश में इन दिनों मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ की पुलिस का खौफ चल रहा है। अप‍राधियों में पुलिस एनकाउंटर का खौफ इस कदर बस गया है कि वे सरेंडर करने के नए नए तरीके अपना रहे हैं। ऐसा ही एक मामला यूपी के संभल जिले से सामने आया है।

बेबस मां की गुहार, स्मैक नहीं मिलती तो सुलेशन पीता है साहब, बेटे को जेल भेज दीजिए!

दरअसल हुआ कुछ ऐसा कि रविवार को यूपी के संभल में एक 15 हजार रुपए का इनामी बदमाश गले में तख्ती बांध कर सरेंडर करने थाने पहुंचा। इसकी तख्ती पर लिखा था ‘‘मैं डरा हुआ हूं, मैं बदमाश हूं, मैं आत्मसमर्पण कर रहा हूं, गोली मत मारना।

इतना ही नहीं बदमाश जब थाने पहुंचा तो एसएचओ के पैरों में गिरकर माफी मांगने लगा और कहने लगा, मुझे गिरफ्तार कर लो, घर में मेरे छोटे-छोटे बच्चे हैं। बता दें कि इस बदमाश पर गोकशी से लेकर गैंगस्टर एक्ट में मामले दर्ज हैं।

डिलीवरी के बाद डॉक्‍टर ने बच्ची को बताया मृत, फिर सुबह जब नर्स ने देखा तो…

मामला जनपद संभल थाना क्षेत्र नखासा का है। इस बदमाश पर गोकशी से लेकर गैंगस्टर एक्ट में मामले दर्ज हैं। अपराधी नईम पुलिस से फरार चल रहा था। पुलिस ने नईम पर 15 हजार का इनाम भी रखा हुआ था।

पुलिस नईम को पकड़ने के लिए उसके घर और रिश्तेदारों के यहां लगातार दबिश दे रही थी। लेकिन यह शातिर बदमाश बार-बार बचकर निकल रहा था। अब एनकाउंटर के खौफ से नईम अपने गले में तख्ती लटका कर थाने नखासा में सरेंडर करने पहुंच गया।

सीएम योगी आदित्यनाथ का बड़ा आदेश, अब निशाने पर होगा हर माफिया

नईम ने अपने गले में एक तख्ती टांग रखी थी. जिस पर लिखा था ‘मैं अपराधी हूं, पुलिस के सामने सरेंडर करता हूं, मुझे जेल भेज दो, मुझे गोली मत मारना। थाना प्रभारी के कहने पर पुलिसकर्मियों ने उसे सहारा देकर उठाया और अंदर ले गए।

वहीं इस मामले में पुलिस कर्मियों का कहना था कि बदमाशों पर बढ़ी सख्ती का नतीजा है कि वांछित अपराधी अब खुद सरेंडर करने आ रहे हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper