यूसुफ पठान ने किया संन्यास का ऐलान, यह रिकॉर्ड बनाने वाले दुनिया के इकलौते क्रिकेटर

यूसुफ पठान

भारतीय क्रिकेट टीम के ऑलराउंडर यूसुफ पठान ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास लेने का ऐलान किया है। पठान 2007 टी-20 वर्ल्ड कप और 2011 50 ओवर वर्ल्ड कप जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा रह चुके हैं। उन्होंने शुक्रवार को ट्वीट कर संन्यास का ऐलान किया।

अहनदाबाद टेस्ट : भारत ने तीसरे टेस्ट मैच में इंग्लैंड को 10 विकेट से हराया, श्रृंखला में ली 2-1 कि बढ़त

यूसुफ पठान ने अपने करियर में 57 वनडे और 22 टी-20 इंटरनेशनल मैच खेले। इसके अलावा यूसुफ ने 174 आईपीएल मैच खेले। हैं। साल 2007 के टी-20 वर्ल्डकप के फाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ यूसुफ पठान ने अपने इंटरनेशनल करियर का आगाज किया और साथ ही डेब्यू मैच में विश्व चैंपियन भी बना। यह क्रिकेट इतिहास का पहला मौका रहा जब किसी खिलाड़ी ने वर्ल्डकप फाइनल में डेब्यू भी किया और चैंपियन का रूतबा भी हासिल किया था।

यूसुफ पठान ने भारत के लिए 57 वनडे मैचों में 27 की औसत से 810 रन बनाए। वहीं 22 टी20 मैचों में उनके नाम 236 रन रहे। उन्होंने वनडे में 2 शतक और 3 अर्धशतक भी ठोके। यूसुफ पठान ने वनडे में 33 और टी20 में 13 विकेट भी अपने नाम किए।

यूसुफ पठान ने ट्वीट में लिखा कि मुझे याद है जिस दिन मैंने पहली बार भारत की जर्सी पहनी थी। मैंने ही सिर्फ वो जर्सी नहीं पहनी थी, वो जर्सी मेरे परिवार, कोच, दोस्त और पूरे देश ने पहनी थी। मेरा बचपन, जिंदगी क्रिकेट के ही इर्द-गिर्द बीता और मैं अंतर्राष्ट्रीय, घरेलू और आईपीएल क्रिकेट खेला। लेकिन आज कुछ अलग है।

उन्होंने आगे लिखा कि आज कोई वर्ल्ड कप या आईपीएल फाइनल नहीं है, लेकिन ये उतना ही अहम दिन है। आज बतौर क्रिकेटर मेरे करियर पर पूर्ण विराम लग रहा है। मैं आधिकारिक तौर पर संन्यास का ऐलान करता हूं। यूसुफ पठान की पहचान विस्फोटक बल्लेबाज के तौर पर रही है।

आईपीएल में यूसुफ ने 2010 में मुंबई इंडियंस के खिलाफ 37 गेंद पर शतक जमाया था। यह आईपीएल इतिहास का दूसरा सबसे तेज शतक है।आईपीएल में सबसे तेज शतक जड़ने का रिकॉर्ड क्रिस गेल के नाम है। उन्होंने 30 गेंद में शतक लगाया था।

Related Articles

Back to top button
E-Paper