पीएम मोदी सर्जिकल स्ट्राइक की दूसरी वर्षगांठ में शामिल होंगे. इसे ‘पराक्रम पर्व’ के रूप में मनाया जाएगा.

इससे जुड़ा मुख्य कार्यक्रम देश की राजधानी दिल्ली में इंडिया गेट पर होगा. जानकारी के मुताबिक पूर देश में तीन दिनों तक यह कार्यक्रम चलेगा. पराक्रम पर्व के तहत पूरे देश 28 से 30 सितंबर तक कार्यक्रम होंगे. इससे जुड़ी जानकारी के मुताबिक 28 सितंबर को इंडिया गेट पर मुख्य कार्यक्रम होगा. जिसमें रक्षा मंत्री और तीनों सेनाओं के प्रमुख भी भाग लेंगे. 29 और 30 सितंबर को इंडिया गेट पर सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे. जिसमें कैलाश खेर और सुखविंदर जैसे कलाकार देशभक्ति से ओत-प्रोत कार्यक्रम पेश करेंगे.

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पराक्रम पर्व के दौरान का वीडियो भी दिखाया जाएगा. यानि जिस  को राहुल गांधी और कांग्रेस झुठलाने की कोशिश करते रहे, वो अब पूरे देश के सामने होगा. यही नहीं कांग्रेस शासित पंजाब ने भी इस पराक्रम पर्व को मनाने के लिए तैयारी की है. और इस आशय का पत्र भी लिखा है. बताया जा रहा है कि इन 3 दिनों में मोदी सरकार के कैबिनेट मंत्री भी देश के अलग-अलग जगहो पर होने वाले कार्यक्रम में भाग लेंगे. बीजेपी ने भी अपनी तरफ से इस कार्यक्रम को सफल बनाने की तैयारी की है.

एक तरफ को लेकर राहुल गांधी मोर्चा खोले हुए हैं. वहीं दूसरी तरफ सरकार ने सर्जिकल स्ट्राइक की दूसरी वर्षगांठ को बड़े पैमाने पर मनाने का फैसला लिया है. ऐसा माना जा रहा है कि इस कार्यक्रम के जरिए ये दिखाने की कोशिश की जाएगी कि जिस तरह से सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर कांग्रेस गलत बयानबाजी करती रही है ठीक उसी तरह से अब सेना का मनोबल तोड़ने के लिए उसके द्वारा राफेल को लेकर भी भ्रम फैलाया जा रहा है.

Related Articles

Back to top button
E-Paper