बेरोजगारी, असुरक्षा से पलायन अखिलेश की देन : मौर्य

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या ने अखिलेश राज में असुरक्षा के कारण नागरिकों के पलायन और बेरोजगारी के चलते नौजवानों के प्रतिभा पलायन पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से जबाब मांगा है।

उन्होंने शुक्रवार को कहा कि ध्वस्त कानून-व्यवस्था के चलते कैराना ही नहीं, प्रदेश के अन्य हिस्सों से जनता पलायन करने को मजबूर है। सपा सरकार की सरपरस्ती में अपराधी और पुलिस मिलकर हत्या, लूट, डकैती को अंजाम दे रहे है।

अखिलेश सरकार बनने के बाद एनसीआरवी के आंकड़ो के मुताबिक 20 हजार से ज्यादा लोगों की हत्याएं हो चुकी है। एक लाख तीस हजार से ज्यादा महिलाओं आपराध की घटनाएं दर्ज की गई है। महिलाओं के साथ ही आम नागरिकों का सड़क पर निकलना खतरनाक हो चुका है।

मौर्य ने कहा कि घरों के अंदर भी जनता सुरक्षित नहीं रह गई है। बदमाश व्यापारियों के घरों एवं दुकानों में घुसकर गोलियां बरसा जाते है। डाक्टरों को उनके क्लीनिक घुसकर मार दिया जाता है। पिछले साढ़े चार साल में 35 हजार से ज्यादा लोगों के अपहरण की घटनाएं दर्ज हुई है।

कहा कि प्रदेश का नौजवान बेरोजगारी के दंश से दूसरे प्रदेशों में पलायन कर रहा है। असुरक्षा के कारण पलायन को लोग मजबूर है। माफियाओं, मदमाशों, अपराधियों व भ्रष्टाचारियों की सांठगांठ वाली अखिलेश सरकार के कारण असुरक्षित व डरी जनता चुनाव में सबक सिखाएगी।

भाजपा सरकार आने पर स्पेशल टास्कफोर्स बनाकर गुण्डागर्दी, अपहरण और पलायन के जिम्मेदार जेल में डाले जायेंगे। भाजपा सुरक्षित महौल पैदाकर प्रदेश में स्टार्टअप वेंचर व 70 लाख रोजगार के अवसर सृजित कर हर तरह का पलायन रोकेगी।

Related Articles

Back to top button
E-Paper