यूपी में कहर बनकर टूटा मानसून, प्रदेश भर में 26 मौतें

यूपी में बृहस्पतिवार को मानसून ने कहर बरपाया। जिसमें 26 लोगों की मौत हो गई। सबसे ज्यादा 9 मौतें ब्रज में हुईं। मुजफ्फरनगर व मेरठ में तीन-तीन, बरेली में दो और गाजियाबाद, हापुड़, खरखोदा, झांसी, रायबरेली, कानपुर देहात, जालौन, जौनपुर में एक-एक मौत हुई।

23 लोगों की मौत हो गई। इसके साथ ही कई जगह जलभराव हो गया। कई जगह जाम लगने से यातायात की व्यवस्था चरमरा गई।

आगरा और मैनपुरी में 9 की मौत
ताजनगरी में बारिश ने चार लोगों की जान ले ली। मलपुरा में एक बच्ची व एत्मादपुर में तीन लोगों की मौत हो गई। उधर, मैनपुरी में रुक-रुककर होती बारिश के बीच करहल और कुसमरा क्षेत्र में दीवार में दबकर तीन बच्चों की मौत हो गई। वहीं, थाना एलाऊ क्षेत्र में बिजली गिरने से एक महिला की मौत हो गई। मथुरा में दीवार ढहने से वृद्धा की मौत हो गई।

बरेली में बारिश में हादसे, दो की मौत
बरेली जिले में दो लोगों की मौत हो गई। छत ढहने से एक बुजुर्ग किसान की मौत हो गई जबकि एक बच्चा पैर फिसलने से उफनाए नाले में बह गया।

मुजफ्फरनगर में तीन और खरखौदा में एक की मौत

मुजफ्फरनगर के खतौली की जगत कॉलोनी में लगे ट्रांसफार्मर के खंभे के तार में उतरे करंट की चपेट में आने से दो किशोर की मौत हो गई। शुक्रताल में गंगाघाट पर बैठी बिजनौर निवासी कुसुम के ऊपर अचानक हाईमास्ट लाइट का खंभा टूटकर गिर पड़ा जिससे महिला की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि खंभे की चपेट में आने से बच्ची भी घायल हो गई। उधर, खरखौदा में एक की मौत हो गई जबकि शामली में चार गंभीर हैं।

कानपुर व आसपास बारिश से तीन की मौत
जालौन के डकोर के कुठौंदा गांव में मकान की कच्ची दीवार ढहने से वृद्ध की मौत हो गई। कानपुर देहात में मंगलपुर थाने के पिपरी गांव में जीएमएसजे हाईस्कूल की दीवार गिरने से वृद्ध की मौत हो गई। कानपुर शहर के बर्रा के वरुण विहार में कच्चा मकान ढहने से दो साल के बच्चे की मौत हो गई।

पुराने लखनऊ में जर्जर मकान का हिस्सा गिरा, दो बच्चे चोटिल
पुराने लखनऊ के  सआदतगंज वार्ड के मंसूरनगर मुहल्ले में बृहस्पतिवार सुबह अचानक जर्जर मकान का हिस्सा ढह गया। सुबह करीब 10 हुए हादसे में पास से गुजर रहे दो बच्चे चोटिल हो गए। हादसे का कारण पड़ोस के मकान में बेसमेंट के लिए हो रही खोदाई को भी माना जा रहा है। बारिश से तालकटोरा के नंदाखेड़ा में मैनहोल धंस गया। इससे सड़क क्षतिग्रस्त हो गई और आवागमन प्रभावित हो गया। केजीएमयू में करीब 100 साल पुराना वृक्ष ढह गया। हादसे में कई वाहन क्षतिग्रस्त हुए हैं। हालांकि जानमाल का नुकसान नहीं हुआ।

Related Articles

Back to top button
E-Paper