इस गाँव में महिलाएं करती हैं पुरुषों के साथ जबरदस्ती

अक्सर ये देखा जाता है कि राह चलते पुरुष ही किसी महिला या लड़की को छेड़ देते हैं या उन पर कुछ भी कमेंट करते हैं. इन सब के बावजूद समाज के डर से लड़कियां ये सब सहन कर लेती हैं लेकिन आज हम आपको एक ऐसी जगह के बारे में बताने जा रहे हैं. जहां लड़के नहीं बल्कि महिलाएं लड़को पर अत्याचार करती हैं और उन्हें छेड़ती हैं. जानकर हैरानी तो होगी ही, आइये जानते उसके बारे में.

दरअसल, अफ्रिका के गिनिया में पुरुष की नहीं बल्कि सिर्फ महिलाओं की हुकूमत चलती है. यहां उन्हें किसी भी पुरुष के साथ सेक्स करने की आज़ादी मिली है और उनके साथ कुछ भी कर सकती हैं. अगर पुरुष इसका विरोध करते हैं तो उन्हें इसके लिए बुरी तरह से प्रताड़ित भी किया जाता है. इसके चलते पुरुष इसका विरोध भी नहीं करते और चुपचाप ये सब बर्दाश्त करे हैं.

बता दें, गिनिया में एक गांव है, जहां महिलाओं को वो सारे अधिकार मिले हैं जो अन्य देशों में पुरुषों के पास होते हैं. यहां महिलाएं या लड़कियां राह चलते किसी भी लड़के या पुरुष को छेड़ सकती हैं और इच्छा होने पर उससे ज़बरदस्ती भी कर सकती है और उनके साथ शारीरिक सम्बन्ध भी बना सकती हैं. ऐसा करने से उन्हें कोई भी नहीं रोक सकता.

यहां एक ख़ास त्यौहार मनाया जाता है जिसका नाम यम है. इस त्यौहार में महिलाएं एक झाड़ी में जाकर छिप जाती हैं और अपनी पसंद के लड़के का इंतज़ार करती हैं. मन पसंद लड़का मिलने पर वो उनके साथ शारीरिक संबंध बनाती हैं और इस त्यौहार मनाती हैं. अक्सर ये देखा जाता है कि राह चलते पुरुष ही किसी महिला या लड़की को छेड़ देते हैं या उन पर कुछ भी कमेंट करते हैं. इन सब के बावजूद समाज के डर से लड़कियां ये सब सहन कर लेती हैं लेकिन आज हम आपको एक ऐसी जगह के बारे में बताने जा रहे हैं. जहां लड़के नहीं बल्कि महिलाएं लड़को पर अत्याचार करती हैं और उन्हें छेड़ती हैं. जानकर हैरानी तो होगी ही, आइये जानते उसके बारे में.

दरअसल, अफ्रिका के गिनिया में पुरुष की नहीं बल्कि सिर्फ महिलाओं की हुकूमत चलती है. यहां उन्हें किसी भी पुरुष के साथ सेक्स करने की आज़ादी मिली है और उनके साथ कुछ भी कर सकती हैं. अगर पुरुष इसका विरोध करते हैं तो उन्हें इसके लिए बुरी तरह से प्रताड़ित भी किया जाता है. इसके चलते पुरुष इसका विरोध भी नहीं करते और चुपचाप ये सब बर्दाश्त करे हैं.

बता दें, गिनिया में एक गांव है, जहां महिलाओं को वो सारे अधिकार मिले हैं जो अन्य देशों में पुरुषों के पास होते हैं. यहां महिलाएं या लड़कियां राह चलते किसी भी लड़के या पुरुष को छेड़ सकती हैं और इच्छा होने पर उससे ज़बरदस्ती भी कर सकती है और उनके साथ शारीरिक सम्बन्ध भी बना सकती हैं. ऐसा करने से उन्हें कोई भी नहीं रोक सकता.

यहां एक ख़ास त्यौहार मनाया जाता है जिसका नाम यम है. इस त्यौहार में महिलाएं एक झाड़ी में जाकर छिप जाती हैं और अपनी पसंद के लड़के का इंतज़ार करती हैं. मन पसंद लड़का मिलने पर वो उनके साथ शारीरिक संबंध बनाती हैं और इस त्यौहार मनाती हैं. अक्सर ये देखा जाता है कि राह चलते पुरुष ही किसी महिला या लड़की को छेड़ देते हैं या उन पर कुछ भी कमेंट करते हैं. इन सब के बावजूद समाज के डर से लड़कियां ये सब सहन कर लेती हैं लेकिन आज हम आपको एक ऐसी जगह के बारे में बताने जा रहे हैं. जहां लड़के नहीं बल्कि महिलाएं लड़को पर अत्याचार करती हैं और उन्हें छेड़ती हैं. जानकर हैरानी तो होगी ही, आइये जानते उसके बारे में.

दरअसल, अफ्रिका के गिनिया में पुरुष की नहीं बल्कि सिर्फ महिलाओं की हुकूमत चलती है. यहां उन्हें किसी भी पुरुष के साथ सेक्स करने की आज़ादी मिली है और उनके साथ कुछ भी कर सकती हैं. अगर पुरुष इसका विरोध करते हैं तो उन्हें इसके लिए बुरी तरह से प्रताड़ित भी किया जाता है. इसके चलते पुरुष इसका विरोध भी नहीं करते और चुपचाप ये सब बर्दाश्त करे हैं.

बता दें, गिनिया में एक गांव है, जहां महिलाओं को वो सारे अधिकार मिले हैं जो अन्य देशों में पुरुषों के पास होते हैं. यहां महिलाएं या लड़कियां राह चलते किसी भी लड़के या पुरुष को छेड़ सकती हैं और इच्छा होने पर उससे ज़बरदस्ती भी कर सकती है और उनके साथ शारीरिक सम्बन्ध भी बना सकती हैं. ऐसा करने से उन्हें कोई भी नहीं रोक सकता.

यहां एक ख़ास त्यौहार मनाया जाता है जिसका नाम यम है. इस त्यौहार में महिलाएं एक झाड़ी में जाकर छिप जाती हैं और अपनी पसंद के लड़के का इंतज़ार करती हैं. मन पसंद लड़का मिलने पर वो उनके साथ शारीरिक संबंध बनाती हैं और इस त्यौहार मनाती हैं.

Related Articles

Back to top button
E-Paper