रिश्वत लेतीं महिला प्राचार्य और हास्‍टल वार्डन गिरफ्तार

ooसीहोर। आष्टा अनुविभाग में ग्राम कोठरी के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय की प्राचार्य एवं इसी स्कूल के कन्या छात्रावास की वार्डन को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया गया है।

दोनों ने छात्रावास में कोचिंग के लिए नियुक्ति मामले मेें एक शिक्षक से रिश्वत मांगी थी। भोपाल से डीएसपी मनोज मिश्रा के नेतृत्व में आई लोकायुक्त की बड़ी टीम ने दोनों को दो हजार रुपये लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया। 

माना जा रहा है कि आष्टा ही नहीं, वरन सीहोर जिले में एक साथ दो महिलाओं को रिश्वत लेते गिरफ्तार करने का यह पहला मामला है।
लोकायुक्त डीएसपी मनोज मिश्रा ने बताया की राकेश वर्मा ने उक्त स्कूल के हॉस्टल की छात्राओं को शासन की योजना के तहत गणित की कोचिंग के लिए आवेदन किया था।

नियुक्ति के बदले राकेश को तीन हजार 500 रुपये का पारिश्रमिक मिलता। राकेश को नियुक्त कर पढ़ाने के बदले विद्यालय की प्राचार्य रूपश्री नागेश एवं हॉस्टल वार्डन ने तीन हजार की रिश्वत की मांग की। दो हजार में मामला तय हो गया और उक्त राशि बुधवार को देने की बात हुई।
लोकायुक्त ने राकेश को 100-100 के 20 नोट देकर योजना अनुसार विद्यालय में भेजा।

राकेश सीधा प्राचार्य के कक्ष में पहुंचा और दो हजार निकाल कर देने लगा। तब प्राचार्य ने अर्चना मैडम को बुलाने को कहा। अर्चना श्रीवास्तव ने प्राचार्य के कक्ष में राकेश से दो हजार की राशि ली और वहीं पर उक्त राशि प्राचार्य रूपश्री नागेश को दे दिए। प्राचार्य ने उक्त राशि अपने टेबल पर रखे पर्स में डाल लिए और राकेश को बाहर भेज दिया।

जैसे ही राकेश बाहर आया और इशारा हुआ, वैसे ही लोकायुक्त की टीम ने प्राचार्य कक्ष में इन दोनों को दबोच लिया। सभी के हाथ धुलाये गये तो गुलाबी हो गये। उक्त गुलाबी पानी बोतलों में भर कर सील किया एवं इस पूरे मामले के सभी दस्तावेज आदि भी जब्त कर लिए गये।

Related Articles

Back to top button
E-Paper