राष्ट्रपति, पीएम समेंत अन्य शीर्ष नेताओं ने जयललिता को दी श्रद्धांजलि, लगा रहा तांता

ra-pmचेन्नई। राष्ट्रपति प्रणब मुख़र्जी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी, दिल्ली और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल व शिवराज सिंह चौहान समेत कई बड़े नेताओं ने मंगलवार को यहां पहुंच कर तमिलनाडु की लोकप्रिय जे जयललिता को श्रद्धांजलि दी और उनके बहुमुखी व्यक्तित्व को याद किया।

राष्ट्रपति प्रणब मुख़र्जी ने शाम चार बजे यहां पहुंच कर दिवंगत नेता को श्रद्धांजलि दी और उनकी पार्थिव देह पर पुष्पचक्र चढ़ाया। श्री मुख़र्जी को आज दिवंगत नेता को श्रद्धांजलि देने के लिए दो बार दिल्ली से रवाना होना पड़ा।

प्रथम बार जब वह भारतीय वायुसेना के विमान से चेन्नई की ओर चले तो बीच रास्ते में कुछ तकनीकी खामी की वजह से उनके विमान में खराबी आ गयी और उन्हें वापस दिल्ली लौटना पड़ा। कुछ वक़्त बाद उनके विमान को ठीक कर लिया गया| तब राष्ट्रपति ने दोबारा से चेन्नई के लिए उड़ान भरी।

amaaप्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दोपहर को भारतीय वायु सेना के विशेष विमान से यहां पहुंचे जहां एयरपोर्ट पर तमिलनाडु के राज्यपाल सी विद्यासागर राव ने उनकी आगवानी की। श्री मोदी का कारवां सीधे एयरपोर्ट से राजाजी हॉल पहुंचा जहां जयललिता का पार्थिव शरीर अंतिम दर्शनों के लिए रखा गया है।

मोदी ने दिवंगत नेता के पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र चढ़ा कर उन्हें अपनी श्रद्धांजलि दी। केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडु और अन्नाद्रमुक नेता एम थंबीदुरै भी वह मौजूद थे। प्रधानमंत्री ने पार्थिव शरीर के निकट खड़े शोकाकुल अनाद्रमुक की सांसद शशिकला और राज्य के नवनियुक्त मुख्यमंत्री पन्नीरसेल्वम को सांत्वना दी।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी, राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आज़ाद और मुकुल वासनिक ने भी यहां पहुंच कर दिवंगत नेता को श्रद्धांजलि दी।

दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी राजाजी हॉल पहुंचे जहां उन्होंने जयललिता को श्रद्धांजलि दी। कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने भी यहां पहुंच कर दिवंगत नेता को अपने श्रद्धासुमन अर्पित किया। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने भी जयललिता को श्रद्धांजलि दी।

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी किसी कारणवश चेन्नई नहीं पहुंच सकीं पर उन्होंने अपनी पार्टी के दो सांसदों डेरेक ओ ब्रायन और कल्याण बनर्जी को अपना प्रतिनिधित्व करने के लिए चेन्नई भेज़ा। गौरतलब है कि जयललिता का सोमवार देर रात लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया था ।

Related Articles

Back to top button
E-Paper